स्वच्छ पर्यावरण विश्व के लिए एक बड़ी चुनौती: अरुण मिश्रा

स्वच्छ पर्यावरण विश्व के लिए एक बड़ी चुनौती: अरुण मिश्रा

कबीर शांति मिशन ने अपना 26वां स्थापना दिवस मनाया

लखनऊ: कबीर शांति मिशन ने अपना 26वां स्थापना दिवस मनाया। इस अवसर पर मिशन में एक चर्चा का आयोजन किया जिसका विषय था ‘स्वस्थ पर्यावरण में समाज की भूमिका’। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि पश्चिमी बंगाल के राजयपाल और पूर्व विधान सभा अध्यक्ष उत्तर प्रदेश केशरी नाथ त्रिपाठी । मुख्य वक्ता पूर्व सचिव भारत सरकार अरूण कुमार मिश्र थे तथा विशिष्ट वक्ता एस0के0 कुमार पूर्व प्रमुख अभियंता सिंचाई विभाग थे। कार्यक्रम की अध्यक्षता पूर्व लोकायुक्त न्यायमूर्ति एस0सी0 वर्मा द्वारा की गई। 
चर्चा के विषय पर बोलते हुए अरूण मिश्रा ने कहा कि आज स्वच्छ पर्यावरण विश्व के लिए एक बड़ी चुनौती बन गई है और भारत में तो स्थिति और भी गंभीर है। यद्यपि केन्द्र सरकार एवं राज्य सरकारों ने इस दिशा में अनेक अच्छे कदम उठाये हैं किन्तु समाज का समुचित सहयोग न मिलने के कारण अभी पर्याप्त प्रगति नहीं हो पा रही है। अतः समाज की सहभागिता प्राप्त करना ही सबसे बड़ी चुनौती है। इसके लिए लोक सेवी संगठनों को आगे आना होगा। अपने स्थापना दिवस पर कबीर शांति मिशन ने इस विषय पर चर्चा करके उपयुक्त कदम उठाया है। आशा है इसका सकारात्मक प्रभाव होगा।
विशिष्ट वक्ता एस0के0 कुमार जो स्वयं पर्यावरण क्षेत्र के विद्वान है और पानी के क्षेत्र में विशेष कार्य कर रहे हैं, ने कहा कि अभी भी आम आदमी पर्यावरण की समस्या की गंभीरता को नहीं समझ रहा है। इस कारण उसका दृष्टिकोण संकीर्ण हो गया है और वह अल्पकालीन समाधान के लिए दीर्घकालीन समस्याओं को जन्म दे रहा है। अतः आवश्यक है कि विभिन्न माध्यमों से इस समस्या की गंभीरता से समाज को अवगत कराया जाय। साथ ही कठोर कानून बनाये जायें व उनका अनुपालन सुनिश्चित हो। इस अवसर पर उनकी पुस्तक ‘पर्यावरण और हम’ का लोकार्पण भी हुआ।
मुख्य अतिथि केशरी नाथ त्रिपाठी ने जोर देकर कहा कि सीमित संसाधनों के उपयोग, जन चेतना और ग्रामीण क्षेत्र में एनिमल एनर्जी के उपयोग से पर्यावरण को स्वच्छ बनाया जा सकता है और यह भी बताया कि विकास की कोई भी प्रक्रिया तब तक सफल नहीं हो सकती जब तक उसमें सक्रिय जन सहभागिता न हो। पर्यावरण के क्षेत्र में तो यह और भी आवश्यक है। उन्होंने कहा कि पर्यावरण के प्रति समाज का दृष्टिकोण हमारी गरीबी व अशिक्षा का परिणाम है और इन्हें दूर करना ही इस समस्या का समाधान है। उन्होंने आशा व्यक्त की वर्तमान समय में देश में स्वच्छता का वातावरण बना है और शीघ्र ही इसके अच्छे परिणाम मिलेंगे। उन्होंने कबीर शांति मिशन के कार्यक्रम में भाग लेने हेतु प्रसन्नता व्यक्त की।
सभा में कबीर शांति मिशन के संस्थापक एवं मुख्य संयोजक राकेश मित्तल ने अतिथियों का स्वागत करते हुए मिशन की प्रगति पर प्रकाश डाला। 
26वें स्थापना दिवस मिशन पर मिशन ने अपने कुछ वरिष्ठ सदस्यों को उनकी समर्पित समाज सेवा के लिए कबीर दीप सम्मान से अलंकृत किया। इनके नाम हैं प्रो0 भूमित्र देव (शिक्षा), प्रो0 श्रीमती कमला श्रीवास्तव (संगीत एवं कला), स्व0 डाॅ0 एम0सी0 पंत (चिकित्सा) एवं प्रो0 जमाल नुसरत (जल अभियंत्रण)। मेरठ के श्री आनन्द प्रकाश अग्रवाल (बैंकर एवं समाज सेवी) इस अवसर पर उपस्थित नहीं हो पाये।
Lucknow, Uttar Pradesh, India