घरेलू विवाद में हुई तंजील की हत्या

घरेलू विवाद में हुई तंजील की हत्या

पुलिस ने किया हत्याकांड का खुलासा, दो आरोपी गिरफ्तार, मुख्य अभियुक्त फरार 

बिजनौर। उत्तर प्रदेश पुलिस ने एनआईए अधिकारी तंजील अहमद की हत्या के संबंध में दो व्यक्तियों को गिरफ्तार किया है और बताया है कि घरेलू विवाद की वजह से यह हत्या की गई। आईजी (बरेली जोन) विजय सिंह मीणा ने बताया कि दो और तीन अप्रैल की मध्य रात्रि को तंजील अपनी पत्नी और बच्चों के साथ जब एक संबंधी के विवाह समारोह से लौट रहे थे तब आरोपी उनका पीछा कर रहे थे। उन्होंने बताया कि तंजील के एक रिश्तेदार के भतीजे रेहान और उसके साथी जैनुल को गिरफ्तार कर लिया गया और मुख्य आरोपी मुनीर को जल्द ही पकड़ लिया जाएगा।

मीणा ने बातया कि श्योहर में हुए विवाह समारोह के बाद लौट रहे तंजील और उनके परिवार का आरोपी पीछा कर रहे थे। सहसपुर गांव में उन्होंने ओवरटेक करते हुए तंजील की गाड़ी रोकी और अंधाधुंध गोलीबारी की। तंजील की मौके पर ही मौत हो गई और उनकी पत्नी फरजाना गंभीर रूप से घायल हो गई। हालांकि उनके दोनों बच्चे बाल बाल बच गए ।  अपराध के कारण के बारे में मीणा ने बताया कि घरेलू एवं पारिवारिक विवाद तथा संपत्ति के सौदे में हिस्से को लेकर इस वारदात को अंजाम दिया गया। डीजीपी जावेद अहमद ने मुनीर के बारे में सूचना देने वाले को 50,000 रूपये का इनाम देने की घोषणा की। जिस मोटरसाइकिल से आरोपी तंजील की गाड़ी का पीछा कर रहे थे उस बाइक को भी बरामद कर लिया गया है। पुलिस को 28 दिसंबर 2015 को बिजनौर के धामपुर में पीएनबी की एक कैशवैन से हुई 91 लाख रूपये की लूट के मामले में भी मुनीर की तलाश है। उसकी तलाश में कई पुलिस दल लगे हुए हैं

Uttar Pradesh, India