अभिभावक व अध्यापक हेल्पलाइन शुरू

अभिभावक व अध्यापक हेल्पलाइन शुरू

शिक्षा मंत्री ने ज़िलों के BSA के साथ की विभाग की समीक्षा 

लखनऊ: प्रदेश के बेसिक शिक्षा मंत्री अहमद हसन की अध्यक्षता में आज यहां जनपदीय एवं मण्डलीय अधिकारियों की विभागीय समीक्षा बैठक आयोजित हुई, जिसमें प्रदेश के सभी जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी एवं सहायक शिक्षा निदेशक (बेसिक) उपस्थित हुए।

बेसिक शिक्षा मंत्री द्वारा सचिव, बेसिक शिक्षा आशीष कुमार गोयल एवं शिक्षा निदेशक (बेसिक) दिनेश बाबू शर्मा की उपस्थिति में विभागीय कार्यों तथा एजेण्डा बिन्दुओं की गहन समीक्षा की गई। सर्वप्रथम विगत बैठक में लिए गए निर्णयों की अनुपालन आख्या शिक्षा निदेशक (बेसिक) द्वारा प्रस्तुत की गई, जिसमें सभी जनपदों में अध्यापक और अभिभावक हेल्पलाइन प्रारम्भ हो जाने पर प्रसन्नता व्यक्त की गई तथा अध्यापकों की उपस्थिति एवं अनुपस्थिति को एस.एम.एस. के जरिए चेक किए जाने से अध्यापकों की विद्यालयों में समय से उपस्थिति होने पर संतोष व्यक्त किया गया। शिक्षा मंत्री द्वारा इसे अग्रेतर प्रभावी रखने और तत्पश्चात् गुणवत्तापूर्ण पठन-पाठन पर ध्यान देने के निर्देश दिए गए। विगत पाॅच वर्षों से अवरूद्ध खेलकूद गतिविधियों को पुनः प्रारम्भ होने पर खुशी व्यक्त की गई। वर्तमान सत्र में परीक्षाओं को प्रभावी ढंग से संचालित करने तथा 30 मार्च तक परीक्षा परिणाम घोषित कर नये सत्र की तैयारी करने के भी निर्देश दिए गए तथा परीक्षा उत्तर पुस्तिकाओं को कम से कम 03 माह तक सुरक्षित रखने के भी निर्देश दिए गए, जिससे निरीक्षण के समय उन्हेें भी देखा जा सके।

शिक्षा मंत्री द्वारा सहायक अध्यापक के रूप में समायोजित किए गए शिक्षा मित्रों के वेतन भुगतान की समीक्षा करते हुए, जहाॅ एक ओर उन जनपदांे पर गम्भीर नाराजगी व्यक्त की गई जहाॅ वेतन भुगतान की समस्या बनी हुई है, वहीं दूसरी ओर कई जनपदों में शत-प्रतिशत भुगतान किए जाने पर उनकी प्रसंशा भी की गई और एक सप्ताह में सबका वेतन भुगतान करते हुए आख्या उपलब्ध कराए जाने के कठोर निर्देश भी दिए गए। जिन अधिकारियों द्वारा सही ढंग से एवं तत्परता से कार्य नहीं किया जाएगा, उनके विरूद्ध कार्यवाही की जायेगी।सचिव, बेसिक शिक्षा द्वारा भी विभागीय अधिकारियों को नियमानुसार कार्यों को त्वरित ढंग से निस्तारित किए जाने के सख्त निर्देश दिए गए। अध्यापकों की शत-प्रतिशत समय से उपस्थिति सुनिश्चित कराने तथा एस.एम.एस. से अवकाश लेने पर उसका भी विद्यालय में रिकार्ड रखे जाने के निर्देश दिए गए। यह भी निर्देश दिए गए कि यदि कोई अध्यापक निलम्बिल किया जाए तो विधिवत जाॅच के पश्चात् उत्तर दायित्व निर्धारित करते हुए ही बहाल किया जाय।

बैठक में निदेशक, एस.सी.ई.आर.टी. एवं निदेशक, साक्षरता के साथ अन्य वरिष्ठ अधिकारीगण भी उपस्थित थे। अन्त में बैठक धन्यवाद ज्ञाापन सहित समाप्त हुई। 

Lucknow, Uttar Pradesh, India