मेरे नाम से की गयी पोस्ट भ्रामक और झूठी

मेरे नाम से की गयी पोस्ट भ्रामक और झूठी

रीता बहुगुणा ने साइबर क्राइम सेल में दर्ज कराई रिपोर्ट 

लखनऊ: कांग्रेस विधायक प्रो0 रीता बहुगुणा जोशी ने आज हजरतगंज थाना साइबर क्राइम सेल में एफआईआर दर्ज कराई जिसमें उन्होने आरोप लगाया है कि कुछ शरारती एवं कट्टरपंथी तत्वों ने एक सुनियोजित षडयंत्र के अन्तर्गत उनके नाम से एक झूठा बयान, उनकी फोटो सहित कट-पेस्ट करके फेसबुक एवं अन्य सोशल मीडिया के विभिन्न माध्यमों पर पोस्ट किया। जिसमें अभद्र भाषा का प्रयोग करते हुए उनका व्यक्तिगत मोबाइल नम्बर डालते हुए लोगों से अपील की कि इस पोस्ट को शेयर करें व रीता जोशी को फोन करके परेशान करें। 

प्रदेश कंाग्रेस मुख्यालय में पत्रकारों को सम्बोधित करते हुए प्रो0 रीता बहुगुणा जोशी ने कहा कि जो बयान उनके नाम से पोस्ट किया गया है वह पूर्णतया भ्रामक एवं झूठा है तथा उनकी छवि को हिन्दू विरोधी करार देते हुए लोगों को उनके विरूद्ध उकसाने का प्रयास है।  उन्होने कहा कि यह एक आपराधिक कृत्य है और उन्होने आशा व्यक्त की है कि पुलिस जल्द से जल्द अपराधिक षडयंत्रकारियों का पता लगाकर उनके खिलाफ कानूनी कार्यवाही करेगी। उन्होने यह भी कहा कि हिन्दू होने पर उन्हें गर्व है परन्तु वह भारतीय संस्कृति की उदारवादिता व धर्मनिरपेक्षता में विश्वास रखती हैं तथा संविधान को अक्षुण्य मानते हुए सभी धर्मों का समान रूप से सम्मान करती हैं। 

डॉ0 जोशी ने कहा कि संघ परिवार धर्म व भगवान राम के नाम का इस्तेमाल राजनीतिक सत्ता प्राप्त करने की कुंजी के रूप में इस्तेमाल करती है। 25 वर्षों से वह हिन्दुओं की  भावनाओं से खेलकर वोट बटोरने का खेल खेल रहे हैं। केन्द्र की मोदी सरकार देश को दिये गये वायदों को पूरा न कर पाने की स्थिति में और दिल्ली, बिहार, गुजरात एवं मध्य प्रदेश के विभिन्न चुनावों में मात खाने के बाद अपने प्रतिद्वन्दियों को निशाना बना रही है और उ0प्र0 में 2017 के आगामी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर धार्मिक उन्माद फैलाकर राजनीतिक लाभ उठाना चाहती है।

इस अवसर पर राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के चेयरमैन एवं सांसद पी0एल0 पुनिया ने कहा कि यह बहुत ही गंभीर विषय है। जिसमें झूठे प्रचार द्वारा कांग्रेस पार्टी की राष्ट्रीय प्रवक्ता के साथ ही साथ कांग्रेस पार्टी की छवि बिगाड़ने की कोशिश की जा रही है। श्री मोदी अपने वायदे को पूरा नहीं कर पा रहे हैं इसलिए संघ परिवार के जरिये मुख्य मुद्दों से भटकाकर देश का ध्यान बांटना चाहते हैं। उन्होने कहा कि भाजपा के न्यूनतम साझा कार्यक्रम में मंदिर को  कभी स्थान नहीं दिया जाता परन्तु जब कभी चुनाव नजदीक होते हैं तो वह राम मंदिर का मुद्दा गरमाते हैं।

Lucknow, Uttar Pradesh, India