जेलों को उपलब्ध धन का दुरूपयोग न हो: कारागार मंत्री

जेलों को उपलब्ध धन का दुरूपयोग न हो: कारागार मंत्री

लखनऊ: प्रदेश के कारागार मंत्री बलवंत सिंह रामूवालिया ने आज यहाॅ जिला एवं आर्दश कारागार के औचक निरीक्षण के दौरान अधिकारियों को निर्देश दिया की सरकार द्वारा जेलों के लिए जो धन उपलब्ध कराया जा रहा है उसका दुरूपयोग न हो। उन्होंने कहा कि अधिकारियों और कैदियों के बीच परिवार जैसा रिश्ता बनाना चाहिए, क्योंकि जेल सुधार गृह होता है और इसी प्रकार के रिश्ते से कैदियों में सुधार लाया जा सकता है। 

यहाॅ पर उन्होंने कैदियों से भी मुलाकात की। कैदियों ने उन्हें बताया कि पैरवी तथा पैरोल के मामले में उन्हें बहुत मुश्किलों का सामना करना पड़ता है। कारागार मंत्री ने आश्वस्त किया कि इस समस्या का हल शीघ्र ही निकाला जायेगा।

श्री रामूवालिया ने निरीक्षण के दौरान दोनों जेलों में बिस्तर, बिछौना, स्नानगृह, ट्वायलेट्स, सफाई, चिकित्सा व्यवस्था, मुलाकातियों की व्यवस्था और विशेषकर भोजन की साफ-सफाई का बारीकी से निरीक्षण किया। खाना तैयार होते तथा भोजन खाकर भी देखा तथा जेल में कुल कर्मचारियों की गिनती व हाजरी रजिस्टर का भी निरीक्षण किया। आर्दश कारागार में छापाखाना, कपड़े एवं बैग आदि बनायें जाने वाले सामानों का भी निरीक्षण किया और अधिकरियों को व्यवस्थाओं में सुधार करने के लिए जरूरी हिदायतें दी । 

Lucknow, Uttar Pradesh, India