आग से आग नहीं बुझाई जा सकती: आज़म

आग से आग नहीं बुझाई जा सकती: आज़म

लखनऊ: फ्रांस पर आतंकी हमले पर अपने बयानों को लेकर विरोधी दलों के निशाने पर आए उत्तर प्रदेश सरकार के कद्दावर मंत्री आजम खां का कहना है कि आग से आग को नहीं बुझाया जा सकता। पेरिस पर हमले को कतई जायज नहीं ठहराया जा सकता है, लेकिन सुपर पावर अमेरिका ने जिस तरह घरों, अस्पतालों पर बमबारी कर बेगुनाहों को मारा है, उसे भी कतई जायज नहीं कहा जा सकता। 

आजम खां सोमवार को यहां पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। भाजपा द्वारा आजम पर राष्ट्रद्रोह संबंधी आरोपों पर जब उनसे पूछा गया तो उन्होंने कहा कि उनकी सरकार है, वह चाहें तो फांसी पर लटका दें, पर भाजपा को जानना चाहिए कि पेरिस भारत में नहीं है। भाजपाई संविधान नहीं केवल आरएसएस की किताबें ही पढ़ते हैं। सुपर पावर ने पूरी दुनिया को खतरे में डाल दिया है। मारे जा रहे बेगुनाह अगर मुसलमान हैं तो क्या उनके लिए आवाज न उठायी जाए। अमेरिका का बस चले तो हर मुसलमान को खत्म कर दे। सुपर पावर रेगिस्तान में रहने वालों के तेल के कुएं व यूरेनियम के भंडार पर कब्जे के लिए यह सारा खेल कर करता है। 

आजम खां ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर फिर निशाना साधते हुए कहा कि वह दुनिया के सामने देश को जलील कर रहे हैं। बिहार में मुसलमानों ने नहीं हिन्दुओं ने उनके दिमाग को ठीक कर दिया।

Lucknow, Uttar Pradesh, India