शाहरुख को मिला शिवसेना का समर्थन

शाहरुख को मिला शिवसेना का समर्थन

मुंबई: बीजेपी के कुछ वर्गों द्वारा निशाने पर लिए जाने के बीच बॉलीवुड अभिनेता शाहरुख खान को सत्तारूढ़ गठबंधन में शामिल शिवसेना का समर्थन मिला। शिवसेना ने कहा कि शाहरुख को महज इसलिए नहीं निशाना नहीं बनाया जाना चाहिए, क्योंकि वह एक मुस्लिम हैं तथा भारत में अल्पसंख्यक समुदाय 'सहिष्णु' है।

शिवसेना के सांसद संजय राउत ने कहा, यह देश सहिष्णु है तथा मुस्लिम भी सहिष्णु हैं। शाहरुख को महज इसलिए निशाना नहीं बनाया जाना चाहिए क्योंकि वह एक मुस्लिम हैं। बीजेपी नेता कैलाश विजयवर्गीय ने मंगलवार को उस समय एक विवाद छेड़ दिया था जब उन्होंने ट्वीट कर कहा था कि शाहरुख भले ही भारत में रहते हों, लेकिन उनकी 'आत्मा' पाकिस्तान में है। उनकी इस टिप्पणी से एक दिन पहले 50 साल के अभिनेता ने कहा था कि देश में असहिष्णुता बहुत अधिक है।

बीजेपी के विवादास्पद सांसद योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को शाहरुख की तुलना पाकिस्तानी आतंकवादी और मुंबई आतंकी हमलों के मुख्य षड्यंत्रकर्ता हाफिज सईद से कर दी और उन्हें यह भी सलाह दे दी कि वह पाकिस्तान चले जाएं। विजयवर्गीय को आड़े हाथ लेते हुए राउत ने कहा कि बीजेपी महासचिव को सहिष्णुता की बहस में पाकिस्तान को नहीं लाना चाहिए तथा यह भारत का अंदरूनी मामला है।

राउत ने कहा कि शाहरुख खान सुपरस्टार केवल इसीलिए हैं, क्योंकि भारत सहिष्णु है और उन पर धर्म के आधार पर विचार नहीं किया जाता। बहरहाल उन्होंने यह भी कहा कि शाहरुख इस मुद्दे पर काफी देर से बोले। शिवसेना नेता ने कहा, पहली बात तो शाहरुख खान को सहिष्णुता की बहस में पड़ना ही नहीं चाहिए था और दूसरी बात कि पुरस्कार लौटाने वाले लोगों में मुस्लिमों की संख्या लगभग नगण्य है। साथ ही शाहरुख इस मुद्दे पर बहुत देर से बोले।