गोदरेज प्राॅपर्टीज ने जीता ‘गोल्डन पिकाॅक अवाॅर्ड फाॅर संस्टेनेबिलिटी‘

गोदरेज प्राॅपर्टीज ने जीता ‘गोल्डन पिकाॅक अवाॅर्ड फाॅर संस्टेनेबिलिटी‘

गोदरेज प्राॅपर्टीज ने वर्ष 2015 के लिए ‘गोल्डन पिकाॅक अवाॅर्ड फाॅर संस्टेनेबिलिटी‘ जीता है। इस अवाॅर्ड का निर्णय सर्वोच्च न्यायालय के चीफ जस्टिस एम.एन वैंकटाचलैया की अध्यक्षता में गठित निर्णायक मण्डल ने किया। गोदरेज प्राॅपर्टीज को यह अवाॅर्ड उसके सभी परिचालनों में स्थायित्व के प्रतिबद्धता के कारण प्रदान किया गया।

यह अवाॅर्ड भारत के काॅरपोरेट गवर्नेंस एण्ड सस्टेनिबिलिटी पर आयोजित 15वें ग्लोबल कन्वेंशन के अवसर पर लंदन में विशेष रूप से आयोजित ‘‘गोल्डन पिकाॅक अवाॅर्ड्स‘‘ सेरेमनी इंस्टीट्यूट आॅफ डायरेक्टर्स (आईओडी) के दौरान प्रदान किया गया। इस समारोह में कई प्रतिष्ठित शीर्ष कारोबारी नेता उपस्थित थे। यह अवाॅर्ड आरटी. माननीय आॅलिवर लेटविन द चांसलर आॅफ डची आॅफ लेनसेस्टर और माननीय केबिनेट मंत्री इंगलैण्ड श्री मिलिन्द कांगले, संस्थापक एवं अध्यक्ष लुकरम ग्रुप, श्री गोपीचंद पी. हिन्दुजा, सह अध्यक्ष हिन्दुजा ग्रुप आॅॅफ कम्पनीज, ले. जनरल जे.एस. आहलुवालिया, पीवीएसएम(से.नि), प्रेसिडेन्ट, इंस्टीट्यूट आॅफ डायरेक्टर्स इण्डिया, माननीय आलोक शर्मा, एमपी, सांसद रीडिंग वेस्ट यूके, और आरटी माननीय द एरि और शेरवब्रे एवं टालबोट डीएल के कर कमलों से प्रदान किया गया। 

इस अवसर पर गोदरेज प्राॅपर्टीज के प्रबन्ध निदेशक एवं सीईओ  पिरोजशा गोदरेज ने कहा ‘‘ हमें अपनी स्थायीत्व अभ्यास के लिए यह पुरस्कार प्राप्त करते हुए काफी खुशी का अनुभव हो रहा है। हमार लगातार यही प्रयास होगा कि हम अपने पूरे विकास पोर्टफोलियो में पर्यावरण मित्रवत परियोजनाएं देकर अपना प्रयास जारी रखे और एक बैंचमार्क स्थापित करें।‘‘