आज़म यूएनओ में उठाएंगे दादरी मुद्दा

आज़म यूएनओ में उठाएंगे दादरी मुद्दा

बिहार चुनाव में विकास नहीं गोमांस को  मुद्दा बना रही है भाजपा: आज़म खां

इंस्टेंट खबर ब्यूरो  

नई दिल्ली: दादरी हत्याकांड का मुद्दा आज़म खां संयुक्त राष्ट्र संघ में उठाएंगे, इस सिलसिले में उन्होंने यूएनओ को चिट्ठी भी लिखी है। अपने सरकारी आवास पर आयोजित पत्रकार वार्ता में यूपी सरकार के अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री आजम खान ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ बीजेपी पर भी जमकर निशाना साधा । 

आजम ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में इस बात का ऐलान किया कि उन्होंने इस मुद्दे पर संयुक्त राष्ट्र को चिट्ठी लिखी है। यूएन को लिखे खत में आजम ने मुसलमानों के खौफ में जीने की बात उठाई हैं। बीजेपी पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि बीजेपी आरएसएस और मुसलमानों के अधिकारों को बताएं। उन्होंने कहा कि वह इस मुद्दे को संयुक्त राष्ट्र में उठाएंगे।  

उन्होने कहा कि इस बार के बिहार चुनाव में विकास मुद्दा नहीं है, बल्कि मुद्दा बीफ यानी गोमांस को बनाया जा रहा है। यूपी के दादरी अफवाह पर कत्लेआम हो जाता है। पीएम नरेंद्र मोदी विदेशों में एकता का गुणगान करते है। लेकिन देश की जमीनी हकीकत कुछ और है। आजम ने आरोप लगाया कि भारत को हिंदू राष्ट्र बनाने की साजिश की जा रही है। बीजेपी के लिए मैं एक आइटम हूं। लेकिन मेरे नाम पर बीजेपी की दुकान नहीं चलेगी।

आजम खान ने गौमांस पर देश भर में एक जैसे कानून की मांग की है। आजम खान ने कहा, पूरे देश में जब एक जैसा कानून लागू है, तो गौमांस को लेकर अलग-अलग राज्यों में अलग कानून क्यों है... कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक गौमांस पर एक कानून बने। इसके साथ ही उन्होंने आरोप लगाया कि बीजेपी और आरएसएस जानबूझ कर साजिश के तहत माहौल बिगाड़ने में जुटी है। उन्होंने कहा, यहां बात दो साम्प्रदायों के बीच भरोसे के टूटने की है।

इससे पहले कल के बयान पर आजम ने कहा था कि हिम्मत है तो बीफ बेचने वाले होटलों को बाबरी मस्जिद की तरह तोड़ दो। आजम खान ने एक समुदाय विशेष पर टिप्पणी करते हुए कहा कि गोभक्त आज के बाद किसी भी होटल के मेन्यू में बीफ की कीमत न लिखने दें। अगर ऐसा होता है तो सभी पांच सितारा होटलों को तोड़ दिया जाए जैसे बाबरी मस्जिद को तोड़ा गया था।

Lucknow, Uttar Pradesh, India