करियर निर्माण में अभिभावक-शिक्षकों का होता है समान योगदान: डा0 श्रीवास्तव

लखनऊ: छात्र-छात्राओं के जीवन एवं करियर निर्माण में अभिभावक एवं शिक्षकों दोनो का समान योगदान होता है। पढाई के दौरान दोनो के बीच परस्पर संवाद छात्र-छात्राओं को भटकाव से बचाते है और अपनी दिशा स्पष्ट करने में मददगाार हाते है। जूनियर एजुकेशन में तो ऐसा देखने को अकसर मिलता है किन्तु उच्च शिक्षा में ऐसी कोशिशें कम देखने को कम ही मिलता है। ये विचार डा0 ऐ0के0 श्रीवास्तव, प्राचार्य, कमला नेहरू संस्थान, सुल्तानपुर ने श्री जय नारायण महाविद्यालय के बी0बी0ए0(आई0बी0) द्वारा आयोजित इंडक्शन मीट 2015 में मुख्य अतिथि के रूप् में व्यक्त किया।

आज दिनांक 17.07.2015 को बी0बी0ए0(आई0बी0) द्वारा इंडक्शन मीट 2015 का आयोजन श्री जे0एन0पी0जी0 के स्मार्ट क्लास में आयोजित किया गया। जिसमें कालेज के पूर्व छात्र-छात्राओं जो वर्तमान में सरकारी/गैर-सरकारी संस्थानों में विभिन्न पदों पर कार्यरत है ने भी भाग लिया। 

बी0बी0ए0(आई0बी0)  के वर्तमाान छात्र-छात्राओं ने भी कार्यक्रम में  भाग लिया तथा छात्रांे से अपनी सफलता के सूत्र व अनुभव साझा किये। इस अवसर पर प्राचार्य डाॅ0एस0डी0शर्मा ने बी0बी0ए0(आई0बी0)छात्रांे से कहा कि आप सभी वर्तमाान छात्रों के सम्पर्क में रह कर बेहतर तैयारी कर सकते है। 

कार्यक्रम में डाॅ0 विजयराज श्रीवास्तव, डाॅ0 शिवागीं, डाॅ0 ए0क0े अवस्थी , डाॅ0 समन खान ,डाॅ0 चन्दन सिंह व अन्य शिक्षक उपस्थित रहे।

फारेन लैग्वेज जुलाई 2015 सत्र का शुभारम्भ व इंडक्शन मीट 2015 का आयोजन

श्री जय नारायण महाविद्यालय के बी0बी0ए0(आई0बी0) द्वारा संचालित फारेन लैग्वेज के एड-आन सर्टिफिकेट प्रोग्राम  का आज सत्र प्रारम्भ हुआ। इस अवसर पर फ्रेंच, जर्मन एवं रशियन भाषा के सभी नये  छात्र-छात्राओं को फारेन लैग्वेज के शिक्षक डा0 अनुप आनन्द एवं मन्जू आनन्द ने फारेन लैग्वेज की आवश्यकता को समझाया।

इस अवसर पर बी0बी0ए0(आई0बी0) के विभागाघ्यक्ष डाॅ0 ए0क0े अवस्थी ने अतिथियों एवं  छात्र-छात्राओं स्वागत किया। कार्यक्रम के कन्वीनर डाॅ0 विजयराज श्रीवास्तव ने विदेशी भीषा सिखने के लिए आवश्यक महत्वपूर्ण बातें बतायी व सभी को धन्यवाद दिया।

Lucknow, Uttar Pradesh, India