निर्धारित अवधि में पूरी होगी मेट्रो रेल परियोजना: अखिलेश

निर्धारित अवधि में पूरी होगी मेट्रो रेल परियोजना: अखिलेश

मुख्यमंत्री ने लाँच की लखनऊ मेट्रो की यूनिफाॅर्म 

लखनऊ: मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि राज्य सरकार सभी क्षेत्रों के विकास के लिए कार्य कर रही है। गांव, गरीब एवं किसान को समर्थ बनाने के लिए कार्यक्रम संचालित करने के साथ ही शहरों के विकास के लिए भी काम हो रहा है। इसके तहत शहरों की यातायात व्यवस्था को सुविधाजनक और आधुनिक बनाने के लिए मेट्रो रेल परियोजनाओं पर कार्य किया जा रहा है। 

मुख्यमंत्री आज यहां अपने सरकारी आवास पर लखनऊ मेट्रो के स्टाफ के लिए यूनीफाॅर्म लाँचिंग कार्यक्रम में अपने विचार व्यक्त कर रहे थे। 

श्री यादव ने कहा कि वर्तमान समय में देश में सबसे तेजी के साथ लखनऊ मेट्रो रेल परियोजना का क्रियान्वयन किया जा रहा है। इसके लिए उन्होंने लखनऊ मेट्रो रेल काॅरपोरेशन के अधिकारियों एवं कर्मचारियों की मेहनत की सराहना करते हुए कहा कि यह कार्य समयबद्ध एवं व्यवस्थित ढंग से सम्पादित किया जा रहा है। तेजी से कराए जा रहे निर्माण के बावजूद कार्य स्थल से गुजरने वाले लोगों को कोई असुविधा नहीं हो रही है। अधिकारियों के अच्छे कार्य एवं व्यवहार से सरकार की छवि बनती है। लखनऊ मेट्रो रेल कारपोरेशन की कार्य प्रणाली से प्रदेश सरकार की प्रशंसा हो रही है। उन्होंने आशा व्यक्त की कि आगामी विधान सभा चुनाव से पूर्व लखनऊ मेट्रो रेल का संचालन शुरू हो जाएगा। 

अवस्थापना परियोजनाओं के समयबद्ध क्रियान्वयन के लिए प्रदेश सरकार की प्रतिबद्धता का उल्लेख करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि लखनऊ मेट्रो रेल तथा आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे परियोजना को निर्धारित अवधि में पूरा कराया जाएगा। दोनों परियोजनाओं से औद्योगिक एवं कारोबारी गतिविधियों में बढ़ोत्तरी होगी तथा प्रदेश में सामाजिक और आर्थिक बदलाव आएगा। विश्व जनसंख्या दिवस के परिप्रेक्ष्य में उन्होंने कहा कि पूरे देश में शहरों की आबादी लगातार बढ़ रही है। नगरों में बुनियादी सुविधाओं का विकास किया जाना जरूरी है। इसके मद्देनजर राज्य सरकार कानपुर, मेरठ, वाराणसी और आगरा में भी मेट्रो रेल के संचालन के लिए कार्यवाही कर रही है। 

उत्तर प्रदेश ऐसा राज्य है जहां सबसे ज्यादा शहरों में मेट्रो रेल की मौजूदगी है। तीन शहरों-नोएडा, ग्रेटर नोएडा तथा गाजियाबाद में जनता को मेट्रो रेल की सेवाएं मिल रही हैं। लखनऊ में मेट्रो रेल के संचालन के लिए तेज गति से कार्य जारी है। राज्य सरकार द्वारा चार अन्य महानगरों-कानपुर, मेरठ, आगरा तथा वाराणसी में मेट्रो रेल की शुरूआत के लिए कदम उठाए गए हैं। इस प्रकार उत्तर प्रदेश इकलौता ऐसा राज्य है जहां आठ शहरों में मेट्रो रेल की सेवाएं या तो उपलब्ध हैं या फिर इन्हें उपलब्ध कराने के लिए गम्भीरता से प्रयास किए जा रहे हैं। इसके विपरीत मध्य प्रदेश, झारखण्ड, छत्तीसगढ़ और उत्तराखण्ड जैसे राज्यों में कहीं भी मेट्रो रेल नहीं है। उन्होंने उम्मीद जताई की कि केन्द्रीय गृह मंत्री का निर्वाचन क्षेत्र होने के नाते लखनऊ मेट्रो रेल परियोजना के लिए जल्द पी0आई0बी0 क्लीयरेन्स मिल जाएगी। इसी प्रकार प्रधानमंत्री का निर्वाचन होने के कारण वाराणसी की परियोजना के लिए भी केन्द्र सरकार से समय से अनुमोदन प्राप्त हो जाएगा। 

श्री यादव ने विकास के प्रति समाजवादी सरकार की प्रतिबद्धता का उल्लेख करते हुए कहा कि वर्तमान सरकार बगैर किसी भेदभाव के प्रत्येक क्षेत्र और वर्ग की तरक्की के लिए कार्य कर रही है। प्रदेश सरकार द्वारा विकास के लिए किए जा रहे प्रयासों पर विपक्षी दलों की टिप्पणियों का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि जिस प्रकार ये लोग आॅक्सीजन लेने के लिए समाजवादी सरकार द्वारा विकसित लोहिया पार्क जाते हैं, उसी प्रकार आने वाले समय में सुविधाजनक और तेज यातायात सेवा का लाभ लेने के लिए ये लोग लखनऊ मेट्रो में यात्रा करेंगे। 

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री श्री अहमद हसन ने कहा कि लखनऊ मेट्रो रेल अत्यन्त महत्वपूर्ण परियोजना है। मुख्यमंत्री इस परियोजना के समयबद्ध क्रियान्वयन के लिए अत्यन्त गम्भीर हैं। दिसम्बर, 2016 में इसके संचालन से जनता को आवागमन की बेहतर सुविधा मिलेगी और नौजवानों को बड़ी संख्या में रोजगार उपलब्ध होगा।

मुख्य सचिव श्री आलोक रंजन ने अपने सम्बोधन में कहा कि लखनऊ मेट्रो रेल का कार्य निर्धारित शिड्यूल के मुताबिक चल रहा है। इसमें एक दिन भी विलम्ब नहीं हुआ है। अक्टूबर से दिसम्बर, 2016 के दौरान इसका ट्रायल रन कराने के लिए शासन संकल्पबद्ध है। लखनऊ मेट्रो परियोजना की टीम लगन और परिश्रम से काम कर रही है। उन्होंने बताया कि कानपुर, आगरा, वाराणसी और मेरठ में मेट्रो रेल के लिए जरूरी कार्यवाही तेजी से की जा रही है। केन्द्र सरकार के उपक्रम राइट्स द्वारा कानपुर मेट्रो रेल के लिए डी0पी0आर0 तैयार किया जा रहा है। शेष तीन शहरों में मेट्रो रेल का अलाइंमेन्ट तय हो गया है। 

लखनऊ मेट्रो रेल काॅरपोरेशन के प्रबन्ध निदेशक श्री कुमार केशव ने स्वागत सम्बोधन में बताया कि यूनिफाॅर्म को नेशनल इंस्टीट्यूट आॅफ डिज़ाइन, रायबरेली द्वारा डिज़ाइन किया गया है। स्टाफ के सभी सदस्य इस यूनिफाॅर्म को पहनेंगे। इससे उनके बीच एकता, अनुशासन और ताल-मेल की भावना और सुदृढ़ होगी। इस मौके पर उन्होंने परियोजना की प्रगति की अद्यतन जानकारी भी दी। 

कार्यक्रम में नेशनल इंस्टीट्यूट आॅफ डिज़ाइन, रायबरेली के निदेशक डाॅ0 भरत शाह ने भी अपने विचार व्यक्त किए। लखनऊ मेट्रो रेल के निदेशक वित्त श्री ए0के0 रस्तोगी ने धन्यवाद ज्ञापित किया। इस मौके पर लखनऊ मेट्रो के प्रबन्ध निदेशक ने मुख्यमंत्री को संगठन की काॅरपोरेट टाई भी भेंट की। कार्यक्रम के दौरान परियोजना की प्रगति पर आधारित एक लघु फिल्म भी प्रदर्शित की गई

Lucknow, Uttar Pradesh, India