रालोद ने मुरादाबाद कलेक्ट्रेट का किया घेराव

रालोद ने मुरादाबाद कलेक्ट्रेट का किया घेराव

लखनऊ। राष्ट्रीय लोकदल मुरादाबाद की जिला इकाई द्वारा दैवीय आपदा से हुयी किसानों की फसल बर्बादी के मुआवजे की मांग को लेकर मुरादाबाद कलेक्ट्रेट का घेराव किया गया।  

इस अवसर पर रालोद के प्रदेशाध्यक्ष मुन्ना सिंह चौहान ने किसानों के प्रति अपना दुख बयां करते हुये कहा कि वर्तमान उ0प्र0 सरकार के कार्यकाल में किसानों की जितनी दुर्दशा हुई है उतनी कभी नहीं हुयी, किसानों की दैवीय आपदा से करोड़ों रूपये की फसले बर्बाद हो गयी जिससे किसान की कमर टूट गयी परन्तु सरकार उनके जख्मों को भरने की बजाय मुआवजे के नाम पर हीलाहवाली कर रही है और किसान मुआवजे की मांग को लेकर दर दर भटक रहा है लेकिन राष्ट्रीय लोकदल किसानों के साथ हो रहे अत्याचार को बर्दाश्त नहीं करेगा उनके हक के लिए संघर्ष करता रहेगा। 

रालोद कार्यकर्ताओं ने मांग किया कि गन्ना भुगतान जल्द सुनिश्चित किया जाए, बिजली की निबांध आपूर्ति सुनिश्चित की जाए एवं दैवीय आपदाओं से हुये फसलों में नुकसान के मुआवजे में हुयी अनियमितता को दूर किया जाए एवं निराकरण खुली चैपाल के माध्यम से किया जाए। कार्यकर्ताओं ने भारी संख्या में किसानों को लामबंद कर धरना प्रदर्षन शुरू किया जिसे देखकर जिलाधिकारी अपनी कार से जाने लगे तो रास्ते में ही कार्यकर्ताओं ने नारेबाजी करते हुये जिलाधिकारी को अपनी मांगे मनवाने के लिए मजबूर कर दिया। कार्यकर्ताओं और किसानों में आक्रोष को देखते हुये जिलाधिकारी ने आश्वासन दिया कि किसानों की प्रत्येक समस्या का बिन्दुवार निराकरण किया जायेगा तथा फसलों के नुकसान पर दिया गया मुआवजा की सूची ग्राम सभा में चस्पा की जायेगी। ग्राम सभा की अनियमितताओं को दूर करते हुये बचे किसानों को मुआवजा दिया जायेगा।

घेराव प्रदर्शन को मुख्य रूप से राष्ट्रीय महासचिव त्रिलोक त्यागी, राष्ट्रीय सचिव शिवकरन सिंह, पश्चिमी उत्तर प्रदेश  के अध्यक्ष मुंशीराम पाल, महानगर अध्यक्ष सैययद राशिद अली, पूर्व आई0ए0एस0 चक्रपाणि यादव, डा0 राजकुमार सांगवान, ओमकार सिंह ने सम्बोधित किया। 

Uttar Pradesh, India