मुख्यमंत्री ने मेघावियों का किया सम्मान

मुख्यमंत्री ने मेघावियों का किया सम्मान

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने इस वर्ष भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आई.आई.टी.) की प्रवेश परीक्षा में अच्छी रैंक पाने वाले विभिन्न जनपदों के सात छात्रों को सम्मान स्वरूप एक-एक लैपटाॅप व 01-01 लाख रुपये का चेक प्रदान किया। 

प्रतिभावान छात्रों को आज यहां अपने सरकारी आवास पर सम्मानित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि जनपद सुल्तानपुर के विष्णु गुप्ता, प्रतापगढ़ के कपूर सरोज व शुभम यादव, सोनभद्र के मुजम्मिल खान तथा आलोक मौर्या, अमेठी के नीलेश यादव तथा रायबरेली के शशांक अवस्थी अपने-अपने क्षेत्रों में अन्य छात्र-छात्राओं के लिए प्रेरणास्रोत हैं। कपूर सरोज ने जहां आँखों में कम रोशनी के बावजूद अनुसूचित जाति की सूची में पांचवां स्थान प्राप्त किया है, वहीं शशांक अवस्थी ने आई.आई.टी. में चयनित होने के साथ-साथ 12वीं कक्षा की परीक्षा में 97 प्रतिशत अंक प्राप्त किये हैं। उन्होंने इन छात्रों को बधाई देते हुए इनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की है। 

इस अवसर पर श्री यादव ने प्रतिभाशाली छात्रों की तारीफ करते हुए कहा कि इन छात्रों ने विषम परिस्थितियों में साधनहीनता के बावजूद जो सफलता अर्जित की है, वह सराहनीय है। उन्होंने छात्रों से अपील की कि आई.आई.टी. की पढ़ाई के बाद जहां भी उन्हें काम करने का मौका मिले वे हमेशा गरीबों की मदद के लिए तत्पर रहें। उन्होंने भरोसा जताया कि आई.आई.टी. की पढ़ाई में भी ये छात्र अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन करेंगे। समाजवादी सरकार प्रतिभा, मेहनत और लगन का हमेशा से सम्मान करती आयी है। इन छात्रों को भविष्य में भी राज्य सरकार की ओर से हर सम्भव मदद देने का भी उन्होंने आश्वासन दिया। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य के विकास में युवाओं की महत्वपूर्ण भूमिका होती है। ऐसे में प्रतिभाशाली छात्रों को हर तरह की मदद और प्रोत्साहन दिया जाना आवश्यक है, ताकि वे आने वाले समय में और उपलब्धियां हासिल कर देश व दुनिया में प्रदेश का नाम रौशन करें तथा राज्य के विकास में सक्रिय भागीदारी निभाएं। 

इस अवसर पर राजनैतिक पेंशन मंत्री राजेन्द्र चौधरी एवं विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री श्री मनोज पाण्डेय ने भी अपने विचार व्यक्त किए तथा छात्रों को बधाई दी। 

कार्यक्रम में जनप्रतिनिधिगण, प्रमुख सचिव सूचना नवनीत सहगल व अन्य अधिकारी तथा छात्रों के परिवारीजन भी उपस्थित थे। 

Lucknow, Uttar Pradesh, India