हमारे हथियार सजावट के लिए नहीं हैं: पाक रक्षा मंत्री

हमारे हथियार सजावट के लिए नहीं हैं: पाक रक्षा मंत्री

इस्लामाबाद : पाकिस्तान के रक्षा मंत्री ख्वाजा आसिफ ने कहा है कि भारत ने उनके देश पर यदि युद्ध थोपा तो इस्लामाबाद उसका माकूल जवाब देगा। पाकिस्तानी रक्षा मंत्री ने आगे कहा कि 'हमारे हथियार सजावट के लिए नहीं हैं'।  ख्वाजा ने कहा, 'जरूरत पड़ी तो हम अपने हथियारों का इस्तेमाल भारत के खिलाफ करेंगे।'

मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक इस्लामाबाद में सोमवार को एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए ख्वाजा आसिफ ने हाल के भारतीय नेताओं के बयानों की कड़ी आलोचना की।  रक्षा मंत्री ने कहा, 'भारतीय नेता उकसाऊ बयान जारी कर आतंक के खिलाफ जारी लड़ाई से पाकिस्तान का ध्यान हटाना चाहते हैं।' उन्होंने आगे कहा कि भारत 'पाकिस्तान में आतंकवाद को बढ़ा रहा है।' उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने भारत के हाल के 'धमकी भरे' बयानों को संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की मून के समक्ष रखा है।

इससे पहले पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ ने भारत को पाकिस्तान के भीतर सैन्य अभियान चलाने के किसी प्रयास को लेकर आगाह करते हुए कहा कि भारत उनके देश के साथ म्यांमार की तरह पेश आने की हिमाकत नहीं करे।

पाकिस्तान में 1999 से 2008 तक शासन करने वाले मुशर्रफ ने म्यांमार में सैन्य अभियान को लेकर भारतीय नेतृत्व पर निशाना साधते हुए कहा, ‘पाकिस्तान म्यांमार नहीं है और भारत पाकिस्तान के साथ म्यांमार की तरह पेश आने की हिमाकत नहीं करे।’ उन्होंने कहा कि भारत ‘समान तरह का दुस्साहस’ करने की कोशिश नहीं करे।

म्यांमार में सैन्य अभियान के बाद सूचना एवं प्रसारण राज्य मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने कहा था कि यह दूसरे देशों के लिए संदेश है। उनके बयान को पाकिस्तान को चेतावनी के रूप में लिया गया है।

एक टीवी साक्षात्कार में मुशर्रफ ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर ढाका में उनके बयान को लेकर निशाना साधते हुए कहा, ‘50 साल के बाद भी कि आप बांग्लादेश में पाकिस्तान विरोधी भावनाओं को भड़काने का प्रयास कर रहे हैं।.क्या यह शांतिपूर्ण रुख है।..भारत के प्रधानमंत्री ने जो किया है वो पाकिस्तान अथवा किसी पाकिस्तानी को स्वीकार्य नहीं है।’