प्रदेश में होगा खेलों का विकास: मुख्यमंत्री

प्रदेश में होगा खेलों का विकास: मुख्यमंत्री

खिलाडि़यों का सम्मान करने में समाजवादी सरकारें सबसे आगे: अखिलेश यादव

ग्रीन पार्क, कानपुर में अन्तर्राष्ट्रीय मैचों के आयोजन के लिए शासन-यू0पी0सी0ए0 के बीच दस्तावेजों का आदान-प्रदान

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि समाजवादी सरकार खेल-कूद को बढ़ावा देने के लिए लगातार प्रयास कर रही है। प्रदेश में नए स्टेडियमों, तरणतालों सहित खेलकूद से जुड़ी तमाम अवस्थापना सुविधाएं विकसित की जा रही हैं। राज्य सरकार राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय स्तर के प्रदेश के खिलाडि़यों को सम्मानित भी कर रही है, ताकि प्रतिभाओं का उत्साह बढ़े।

मुख्यमंत्री ने यह विचार आज यहां अपने सरकारी आवास पर आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान व्यक्त किए। यह कार्यक्रम ग्रीन पार्क, कानपुर में अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट मैचों के आयोजन के लिए प्रदेश शासन एवं यू0पी0सी0ए0 के मध्य एम0ओ0यू0 पर हस्ताक्षर कर दस्तावेजों के आदान-प्रदान करने के लिए आयोजित किया गया था। लखनऊ में निर्माणाधीन अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट मैचों के आयोजन के लिए विकासकर्ता कम्पनी एवं यू0पी0 क्रिकेट एसोसिएशन के मध्य एम0ओ0यू0 पर हस्ताक्षर कर दस्तावेजों का आदान-प्रदान भी इस मौके पर किया गया। मुख्यमंत्री ने gazetteer.up.nic.in  वेबसाइट का शुभारम्भ भी किया। इसके जरिए 54 जिलों के गजेटियर्स आॅनलाइन सुलभ हो गए हैं।

श्री यादव ने कहा कि लखनऊ में निर्मित किए जा रहे वल्र्ड क्लास क्रिकेट स्टेडियम के बन जाने के उपरान्त यहां पर अन्तर्राष्ट्रीय मैचों का आयोजन किया जा सकेगा। क्रिकेट एक अत्यन्त लोकप्रिय खेल है और इसके तीनों फाॅर्मेट लोग पसन्द करते हैं। आजकल टी-20 मैच अत्यन्त लोकप्रिय हो रहे हैं और इसे युवा वर्ग बहुत पसन्द करता है। टेनिस बाॅल क्रिकेट भी काफी लोकप्रिय हो रहा है। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि खिलाडि़यों का सम्मान करने में समाजवादी सरकारें हमेशा आगे रही हैं। पूर्व में नेताजी ने खिलाडि़यों का भरपूर सम्मान किया। इसी प्रकार वर्तमान सरकार भी खिलाडि़यों की जमकर हौसला अफजाई कर उन्हें सम्मानित कर रही है। 

उल्लेखनीय है कि बी0सी0सी0आई0, यू0पी0सी0ए0 को तभी क्रिकेट मैच आवंटित करेगी, जब एसोसिएशन के पास अपना क्रिकेट स्टेडियम हो या एसोसिएशन का किसी क्रिकेट स्टेडियम के मालिक से क्रिकेट खेलने के लिए 30 वर्ष का अनुबन्ध हो। इसी शर्त को ध्यान में रखते हुए यू0पी0सी0ए0 को ग्रीन पार्क स्टेडियम के परिभाषित क्षेत्रों को लाइसेन्स पर 30 वर्ष के लिए उपलब्ध कराया जा रहा है। इस अवधि में क्रिकेट एसोसिएशन पारिभाषित क्षेत्र की देख-रेख अपने व्यय पर करेगा। ग्रीन पार्क स्टेडियम पर राज्य सरकार का पूरा स्वामित्व बना रहेगा।

कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए मुख्य सचिव आलोक रंजन ने कहा कि लखनऊ में स्पोर्ट्स  काॅम्प्लेक्स परियोजना का शिलान्यास किया जा चुका है और इस पर तेजी से काम जारी है। स्पोट्र्स काॅम्पलेक्स की कुल लागत लगभग 400 करोड़ रुपए आकलित है। यह परियोजना तीन साल में पूरी होगी। इसके पहले चरण में क्रिकेट स्टेडियम का निर्माण दिसम्बर, 2016 तक पूरा किया जाएगा।

इससे पूर्व, मुख्यमंत्री की उपस्थिति में प्रमुख सचिव खेल डाॅ0 अनीता भटनागर जैन तथा यू0पी0सी0ए0 के सचिव श्री राजीव शुक्ला के मध्य ग्रीन पार्क स्टेडियम, कानपुर के सम्बन्ध में एम0ओ0यू0 पर हस्ताक्षर तथा आदान-प्रदान किया गया। 

Lucknow, Uttar Pradesh, India