बच्चों की गुमशुदगी की राजधानी बन गया है यूपी: डा0 मनोज मिश्र

बच्चों की गुमशुदगी की राजधानी बन गया है यूपी: डा0 मनोज मिश्र

लखनऊ: भारतीय जनता पार्टी ने उत्तर प्रदेश में बच्चों की बढ़ती गुम शुदगी पर प्रदेश की सपा सरकार को जिम्मेदार ठहराया। पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता डा0 मनोज मिश्र ने कहा कि पिछले शुक्रवार-शनिवार के 24 घण्टों के दौरान प्रदेश में 41 बच्चें गायब हुए जिनमे से 17 की रिपोर्ट लिखी गई। बच्चों की गुमशुदगी की राजधानी उत्तर प्रदेश बन गया है। सरकार और पुलिस की निष्क्रियता बच्चों के अपहरण व गुमशुदगी के लिए जिम्मेदार है।

प्रवक्ता डा0 मिश्र ने आरोप लगाया कि पिछले तीन वर्षो से देश भर में सर्वाधिक बच्चें उत्तर प्रदेश से गायब हो रहे है। मात्र वर्ष 2013 में पूरे देश में गायब हुए बच्चों में सर्वाधिक 21.03 प्रतिशत उत्तर प्रदेश से थेें। ऐसा लगता है कि प्रदेश में कई बच्चा चोर गिरोह सक्रिय है। यह गम्भीर मामला है तथा मानव तस्करी का बड़ा विषय है। गायब होने वाले ज्यादातर बच्चें 6 से 14 साल के है तथा लड़किया है। इनको अपहरण कर बाल मजदूरी, भिखारी तथा अन्य धन्धों मे लगाया जा रहा है।

प्रवक्ता डा0 मिश्र ने आरोप लगाया कि अपराध के लिए उत्तर प्रदेश सुक्षित जगह बन गया है। बिहार तक का अपह्त बच्चा लखनऊ में रखा जा रहा है। पिछले लगभग एक माह से राजधानी में एस0 एस0 पी0 नहीं है। एस0 एस0 पी0 विहीन राजधानी में अपराध नियन्त्रण के बाहर है। बच्चो की गुमशुदगी भी इसी अपराध की एक कड़ी है। 

डा0 मिश्र ने सपा सरकार पर हमला करते हुए कहा कि बच्चों के अपहरण व गुमशुदगी का केन्द्र उत्तर प्रदेश बन गया है। सरकार और पुलिस निष्क्रिय और नकारा है। इतने सवेंदन शील मुद्दे पर सरकार का मौन चिन्ता जनक है।

Lucknow, Uttar Pradesh, India