टाइप कास्ट नहीं होना चाहूंगा: हुमायूं सईद

टाइप कास्ट नहीं होना चाहूंगा: हुमायूं सईद

हुमायूं सईद पाकिस्तान के सर्वाधिक पसंदीदा एवं प्रशंसित अभिनेताओं में से एक हैं। वह अपनी विविधता के लिए जाने जाते हैं, माॅडलिंग, प्रोडक्शन, निर्देशन अथवा अभिनय कुछ भी हो, वह बेजोड़ हैं। उनके अच्छे लुक्स एवं उनकी सशक्त अभिनय क्षमता उन्हें न सिर्फ एक स्टाइल आइकाॅन बनाती है, बल्कि दुनिया भर के दर्शकों के दिलों की धड़कन भी बनाती है।

हुमायूं पहले जिंदगी के शो ‘कैसी ये कयामत’ और ‘इजाजत’ में दिखे चुके हैं। वर्तमान में हुमायूं सईद ‘इज्जत’ में शहान अली की भूमिका निभा रहे हैं, इस शो का प्रसारण जिंदगी चैनल पर हो रहा है।       

प्रश्न . इजाजत में अपने चरित्र के बारे में बताइये?

उत्तर: मैं शहान अली खान नामक एक मीडिया टाइकून की भूमिका निभा रहा हूं, जो एक बहुमुखी एवं गंभीर व्यक्तित्व का स्वामी है। यह बेहद बुरा किरदार है। शहान की इज्जत से मुलाकात होती है और इन दोनो के बीच प्रतिशोध का खेल शुरु होता है। मैं खुश हूं कि मैंने एक भिन्न चरित्र को निभाने का अवसर प्राप्त किया है। मैं एक अभिनेता के रुप में टाइप कास्ट नहीं होना चाहुंगा तथा शहान ने मुझे अपने विविधतापूर्ण अभिनय को प्रदर्शित करने का अवसर दिया है।   

प्रश्न .  इस भूमिका को स्वीकार करने का कारण? 

उत्तर: इज्जत एक इंटेंस ड्रामा है, यह लीक पर पेश किए जाने वाले ड्रामों से काफी भिन्न है तथा यह कहीं अधिक नारी केंद्रित भी है। शुरुआत में मैंने कहानी को संतुष्टिदायक नहीं महसूस किया, लेकिन जब मैंने पूरी स्क्रिप्ट पढ़ी, तब मुझे शहान का चरित्र काफी गहन लगा, जिससे मैं इस रोल को स्वीकार करने के लिए प्रेरित हुआ। इसके अतिरिक्त आएशा खान और शाहिद शफात जैसे लोगों के कारण भी मैंने यह भूमिका स्वीकारी, आएशा ने इज्जत की भूमिका निभाई है, जबकि शाहिद शफात इस शो के निर्देशक हैं।    

प्रश्न . अनुभव कैसा रहा है?

उत्तर: मैंने सदैव ही रोमांटिक भूमिकायें निभाई हैं। ऐसा पहली बार है जब मैं एक नकारात्मक चरित्र निभा रहा हूं। यह सर्वश्रेष्ठ अनुभवों मे से एक रहा है।   

प्रश्न . हुमायूं असली जीवन में कैसे हैं? क्या हुमायूं शहान के जैसे हैं? 

उत्तर: नहीं, हुमायूं और शहान में कोई समानता नहीं है। मैं शहान से पूरी तरह से विपरीत हूं। इज्जत में शहान को एक घमंडी व्यक्ति के रुप में दिखाया गया है जो इज्जत के प्रति प्रतिरोध एवं क्रोध की भावना रखता है, लेकिन असली जिंदगी में मैं न तो घमंडी हूं और न ही प्रतिशोधात्मक हूं।