रायसीना हिल्स पहुंची केजरी-नजीब की जंग

रायसीना हिल्स पहुंची केजरी-नजीब की जंग

नई दिल्ली : नौकरशाहों की नियुक्ति को लेकर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उप राज्यपाल नजीब जंग के बीच टकराव बढ़ती जा रही है। केजरीवाल ने विवाद को लेकर राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी से मिलने का वक्त मांगा था। उनके इस अनुरोध को राष्ट्रपति ने स्वीकार कर लिया है। केजरीवाल मंगलवार को राष्ट्रपति से मुलाकात करेंगे। रिपोर्टों के मुताबिक केजरीवाल मंगलवार शाम छह बजे राष्ट्रपति मुखर्जी से मिलेंगे और जंग के साथ चल रहे गतिरोध से उन्हें अवगत कराएंगे।  

मुख्य सचिव (सेवाएं) शकुंतला गैमलिन के मामले ने उस वक्त नया मोड़ ले लिया जब प्रधान सचिव (सेवा) अनिंदो मजूमदार आज सुबह अपने कार्यालय पहुंचे तो उन्होंने पाया कि मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल के कार्यालय के निर्देश पर ताला जड़ दिया गया है।

जंग से निर्देश मिलने पर गामलिन को नियुक्ति पत्र जारी करने वाले मजूमदार को केजरीवाल ने शनिवार को पद से हटा दिया था। उप राज्यपाल ने मजूमदार को स्थानांतरित करने के आदेश को यह कहकर उसी शाम निरस्त कर दिया था कि इसमें उनकी मंजूरी नहीं ली गई। सूत्रों ने बताया, ‘अपने कार्यालय पर ताला जड़े जाने का मुद्दा मजूमदार द्वारा कार्यवाहक मुख्य सचिव शकुंतला गामलिन के समक्ष उठाए जाने की संभावना है।’

केजरीवाल ने कल गामलिन पर 11 हजार करोड़ रूपये के ऋण के मामले में रिलायंस इन्फ्रा के स्वामित्व वाली दो डिस्कॉम्स का पक्ष लेने की कोशिश का आरोप लगाया था और कहा था कि मोदी सरकार आप सरकार को ‘विफल’ करना चाहती है। कार्यवाहक मुख्य सचिव के रूप में गामलिन की नियुक्ति पर विवाद ने सत्तारूढ़ आप और जंग के बीच पिछले हफ्ते खुले टकराव का रूप ले लिया था और केजरीवाल ने आरोप लगाया कि उप राज्यपाल प्रशासन पर नियंत्रण करने की कोशिश कर रहे हैं। केजरीवाल के जबर्दस्त विरोध के बावजूद जंग ने शुक्रवार को गामलिन की नियुक्ति की थी । शनिवार को मुख्यमंत्री ने उनसे पदभार न संभालने को कहा था, लेकिन गामलिन ने मुख्यमंत्री के निर्देश को नजरअंदाज कर उप राज्यपाल के आदेश का पालन किया।

India