अखिलेश राज में महिलायें असुरक्षित: डा0 मनोज मिश्र

अखिलेश राज में महिलायें असुरक्षित: डा0 मनोज मिश्र

लखनऊ: भारतीय जनता पार्टी ने शाहजहांपुर जिले में 5 महिलाओं को दिन दहाड़े निर्वस्त्र कर घुमाने पर सपा सरकार की कड़े शब्दों में निंदा की। पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता डा0 मनोज मिश्र ने आरोप लगाया कि इस शर्मनाक घटना से यह सिद्ध हो गया है कि उत्तर प्रदेश में जंगल राज कायम है। महिलाओं के साथ इस अमानवीय कृत्य की जितनी भी निंदा की जाये कम है। पुलिस की निष्क्रियता ने बेशर्मी की सारी हदें तोड़ दी। महिलाओं की सुरक्षा और सम्मान की रक्षा सपा सरकार करने में पूरी तरह से फेल है।

प्रवक्ता डा0 मिश्र ने कहा कि शाहजहांपुर जिले के बड़े हरेवा गांव की 5 महिलाओं को दबंगों द्वारा निर्वस्त्र घुमाया जाना निंदनीय है। उन्होंने आरोप लगाया कि निर्वस्त्र महिलाओं को दंबग जानवरों की तरह हांक रहे थे। पग-पग पर उनका चीरहरण हो रहा था और प्रदेश की सरकार हाथो पर हाथ धरे बैठी रही। सुबह 8 बजे की घटना पर पुलिस 9-10 घण्टों बाद शाम को 5 बजें पहंुच पाई। थाना पुलिस की निष्क्रियता प्रदेश की ध्वस्त कानून व्यवस्था का जीवन्त प्रमाण है। पुलिस और प्रशासन की तन्द्रा इतनी देर से टूटी, इसकी जिम्मेदारी पुलिस प्रशासन के आला अधिकारियों की भी है।

डा0 मिश्र ने आरोप लगाया कि प्रदेश की सरकार, पुलिस और प्रशासन सांप निकलने के बाद लाठी पीटने का काम करती है। महिलाओं की सुरक्षा के बड़े-बड़े दांवे करने वाली सपा सरकार अब बताये कि प्रदेश में महिलाऐं कितनी सुरक्षित है ?

डा0 मिश्र ने मांग की कि इस घटना की जिम्मेदारी प्रदेश की सपा सरकार तुरन्त स्वीकारे। दोषियों पर कड़ी से कड़ी कानूनी कार्यवाही हो तथा जिम्मेदारी पुलिस-प्रशासनिक अफसरो पर भी कड़ी कार्यवाही हो। सरकार की प्रदेश में धमक खत्म हो गयी है। सरकार युद्ध स्तर पर ध्वस्त कानून व्यवस्था को सुधारे।

Lucknow, Uttar Pradesh, India