अब तो सूट पहनकर आते हैं चोर: राहुल

अब तो सूट पहनकर आते हैं चोर: राहुल

लैंड बिल पर कांग्रेस उपाध्यक्ष का मोदी सरकार पर तीखा हमला 

नई दिल्ली: कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने लैंड बिल के मुद्दे पर लोकसभा में सरकार पर तीखा हमला बोलते हुए कहा कि किसानों के पैरों के नीचे सोना है, जिसे यह सरकार छीनना चाहती है।

उन्होंने कहा, आपको (किसानों को) कुछ साल बाद आपकी जमीन के बदले 10 करोड़ या 50 करोड़ भी कीमत मिल सकती है, लेकिन यह सरकार आपके पास जमीन रहने ही नहीं देना चाहती है। यह सरकार गरीब विरोधी, किसान विरोधी है। उन्होंने दावा किया कि अगर सरकार को इस बिल के मुद्दे पर संसद में नहीं रोक पाए तो सड़कों पर जाकर उसे रोकेंगे और 'सूट-बूट' का काम नहीं होने देंगे।

राहुल ने अपने भाषण के अंत में बहुत तीखा कटाक्ष करते हुए कहा, सुना था कि चोर सिर्फ रात को आते हैं, छुपकर आते हैं, खिड़की के अंदर से कूद कर आते हैं, लेकिन  तो चोर दिन दहाड़े आते हैं, सबके सामने आते हैं, और सूट पहनकर आते हैं।

राहुल ने लगातार जारी हंगामे के बीच अपने भाषण में यह भी कहा कि लैंड बिल को लाने में हमें दो साल लगे और इस सरकार ने कुछ ही दिनों में उसकी हत्या कर दी। हमारे बिल में प्रावधान था कि हम किसानों से पूछकर उनकी जमीन लेंगे, लेकिन इस बिल में आपने किसानों से जमीन छीनने की बात की है।

राहुल ने कहा, हमने कहा कि अगर किसानों की जमीन ली जाती है और पांच साल में उस पर प्रोजेक्ट शुरू नहीं होता है तो जमीन किसान को वापस दी जाएगी, नए बिल में उसको भी रद्द कर दिया गया है। अब प्रोजेक्ट शुरू होने में 10 साल लगे या 50 साल, किसानों की जमीन यूं ही बेकार पड़ी रहेगी। आप किसानों की जमीन क्यों छीनना चाहते हैं?

कांग्रेस सांसद ने कहा, हमने आपकी फाइनेंस मिनिस्ट्री से पूछा बताइये जमीन के कारण कितने प्रोजेक्ट रुके हैं। आपकी फाइनेंस मिनिस्ट्री ने कहा कि 100 में से केवल 8 प्रोजेक्ट जमीन की वजह से रुके हैं। केंद्र सरकार के पास जमीन पड़ी है, लेकिन आप किसान की जमीन क्यों छीनना चाहते हो? उन्होंने सत्ता पक्ष पर आरोप लगाया कि पहले यही नेता विपक्ष में बैठकर हमारे बिल का समर्थन कर रहे थे, लेकिन आज ये पलट गए हैं।