दोबारा क्रिकेट रिश्ते बनाने को भारत-पाक तैयार मगर गृह मंत्रालय बाधा

दोबारा क्रिकेट रिश्ते बनाने को भारत-पाक तैयार मगर गृह मंत्रालय बाधा

कोलकाता : भारत और पाकिस्तान के बीच दोबारा द्विपक्षीय क्रिकेट संबंध शुरू करने की कोशिशों में जुटे पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के प्रमुख शहरयार खान ने कहा कि उनका देश दिसंबर में यूएई में श्रृंखला की मेजबानी के लिए तैयार है।

इस श्रृंखला में तीन टेस्ट, पांच वनडे और दो टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच होंगे और दोनों देशों के बीच 2014 में जिस सहमति पत्र पर हस्ताक्षर हुए थे ये श्रृंखला उसका हिस्सा है। शहरयार अब इस समझौते को पूरा करना चाहते हैं।

बीसीसीआई अध्यक्ष जगमोहन डालमिया के साथ यहां बैठक के बाद शहरयार ने कहा, ‘हम यूएई में भारत-पाक श्रृंखला दोबारा शुरू करेंगे। यह भारत-पाक क्रिकेट की दोबारा शुरुआत होगी। यह श्रृंखला पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार दिसंबर में होगी और इसमें तीन टेस्ट, पांच वनडे और दो टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच होंगे। तैयारी जोरों से चल रही है। हमें अंतिम बाधा पार करनी होगी।’

विश्व क्रिकेट की सबसे बहुप्रतीक्षित प्रतिद्वंद्विता दोबारा शुरू करने का प्रयास करने में अहम भूमिका निभाने के लिए अपने भारतीय समकक्ष की तारीफ करते हुए शहरयार ने कहा कि डालमिया के साथ उनके संबंध काफी पुराने हैं।

शहरयार ने कहा, ‘मैं यहां अपनी मेजबानी के लिए डालमिया का आभारी हूं। मुझे खुशी है कि हम प्रक्रिया को दोबारा शुरू कर पाए। आपको शायद पता होगा कि एमओयू के मुताबिक दोनों देशों के बीच आठ साल में पांच श्रृंखलाएं होंगी।’ शहरयार के साथ 30 मिनट की बैठक के बाद संयुक्त प्रेस कांफ्रेंस में डालमिया ने भी दोनों देशों के बीच क्रिकेट संबंध दोबारा शुरू होने की उम्मीद जताई लेकिन गेंद सरकार के पाले में डाल दी।

डालमिया ने कहा, ‘हमें श्रृंखला दोबारा शुरू होने की उम्मीद है। सिर्फ कुछ चीजों का समाधान निकालने की जरूरत है और बेशक आम सहयोग के बिना हम आगे नहीं बढ़ सकते। गृह मंत्रालय और सरकार के समर्थन के बिना हम आगे नहीं बढ़ सकते।’ शहरयार ने कहा कि भारत-पाक प्रतिस्पर्धा एशेज से भी बड़ी होती है।

उन्होंने कहा, ‘मैं आपको बता दूं कि भारत-पाक श्रृंखला दुनिया में किसी भी अन्य क्रिकेट श्रृंखला से अधिक महत्वपूर्ण है। यह एशेज से भी अधिक महत्वपूर्ण है।’ उन्होंने कहा, ‘एडिलेड में विश्व कप के दौरान भारत-पाक मुकाबले के टिकट 20 मिनट के भीतर बिक गए थे, मुकाबले को लेकर इतनी दीवानगी है।’

शहरयार ने सूचित किया कि यहां तक कि बांग्लादेश भी भारत-पाक मुकाबले की मेजबानी को तैयार है। उन्होंने कहा, ‘मैं हाल में बांग्लादेश से आया और बीसीबी अधिकारियों ने भी कहा कि आप श्रृंखला की मेजबानी यहां क्यों नहीं करते। उन्होंने भारत-पाक श्रृंखला की मेजबानी की भी इच्छा जताई।’ वर्ष 2007 से भारत ने राजनीतिक और अन्य कारणों से पाकिस्तान के साथ द्विपक्षीय टेस्ट श्रृंखला नहीं खेली है, विशेषकर 2008 मुंबई आतंकी हमले के बाद। आतंकी हमले के बाद भारत ने पाकिस्तान के साथ सभी श्रृंखलाए निलंबित कर दी थी।

दोनों देशों ने 2012 में दिसंबर में भारत में तीन वनडे और दो टी20 मैचों की संक्षिप्त श्रृंखला खेली थी लेकिन इसके अलावा दोनों टीमें आईसीसी की प्रतियोगिताओं या फिर एशिया कप में ही भिड़ीं।