सपा सरकार ने किसानों के साथ वादा खिलाफी की:  डाॅ0 बाजपेयी

सपा सरकार ने किसानों के साथ वादा खिलाफी की: डाॅ0 बाजपेयी

फतेहपुर : भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डाॅ0 लक्ष्मीकान्त बाजेपेयी ने फतेहपुर के किसान पंचायत में कार्यकत्र्ताओं का आह्वन करते हुए कहा कि भाजपा के कार्यकत्र्ता जनता की लड़ाई मजबूती से लडे़। उन्होने प्रशासनिक तंत्र की शिथिलता पर हमला करते हुए कहा कि प्रदेश के डी0एम0 और एस0एस0पी0 का बर्ताव अग्रेजो के जमाने का है। भाजपा किसानों के हर दुख दर्द में शामिल है। जबकि सपा सरकार किसानो के साथ विश्वासघात कर रही है। प्रदेश के किसान इस विश्वासघात पर सपा सरकार को सबक सिखायेगे।

डाॅ0 बाजपेयी ने सपा सरकार पर वादा खिलाफी का आरोप लगाया और कहा कि अखिलेश सरकार ने अपने घोषणा पत्र में किसानो के लिए कृषि मूल्य आयोग का गठन, आलू पर आधारित उद्योग लगाने और किसानों के ऋण माफ करने का वादा किया था परन्तु 3 साल बीत जाने के बाद कुछ भी नहीं हुआ। अखिलेश सरकार की नीति और नीयत ठीक नही है।

सपा पर हमला करते हुए डाॅ0 बाजपेयी ने कहा कि इतनी बड़ी आपदा में भी मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और उनके मंत्रि परिषद का कोई सदस्य किसानों के खेत और मेड तक नही पहुॅचा जबकि भाजपा के मंत्रीगण खेतो और किसानों की मेड़ो तक गये। पूरी पार्टी किसानों के दुख दर्द से जुड़ी रही। केन्द्रीय मंत्रियों श्री नितिन गडकरी, हरिभाई चैधरी और रामकृपाल यादव ने उसी दिन नुकसान का आंकलन कर मुआवजे की घोषणा करवा दी।

डाॅ0 बाजपेयी ने आरोप लगाया कि सपा की पूरी मंत्रि परिषद सैफई में नाच गाना देख सकती है, चित्रकूट के प्रभारी मंत्री शिवपाल सिंह यादव अमरोहा में विदेशी बालाओं का नाच देख सकते है परन्तु किसानो के दुखदर्द में शामिल नही हो सकते। 

डाॅ0 बाजपेयी ने केन्द्र की मोदी सरकार की तारीफ करते हुए कहा कि आपदा राहत में 50 प्रतिशत के नुकसान को 35 प्रतिशत तक किया। पहले मुआवजा एक हेक्टेएअर पर मिलता था, मोदी सरकार ने अब दो हेक्टेएअर पर मुआवजा घोषित किया, मुआवजे की राशि डेढ़ गुना की और गेहूॅ खरीद मानको में भी छूट दी। अखिलेश सरकार रूपये 9000 के मुआवजे राशि के बजाय रूपये 4500 ही दे रही है।

डाॅ0 बाजपेयी ने सपा सरकार को आईना दिखाते हुए कहा कि हरियाणा की भाजपा सरकार रूपये 25000 मुआवजा दे रही है, बिजली का बिल माफ कर दिया है। कर्जे की वसूली 3 साल के लिए स्थगित कर दी है तथा कर्जे का व्याज माफ कर दिया है।

इसके पहले प्रदेश अध्यक्ष डाॅ0 बाजपेयी फतेहपुर के पास पीसी गांव में किसान कल्लू मौर्या के घर गये जिन्होंने आत्महत्या कर ली थी। 

आज डाॅ0 बाजपेयी ने फतेहपुर के थरियांव गांव की गेहॅॅू क्रय केन्द्र पर छापा मारा। गेहॅू खरीद केन्द्र बन्द मिला तथा खरीद अधिकारी मौके से गायब मिले। 

डाॅ0 बाजपेयी के साथ प्रदेश मीडिया प्रभारी मनीष शुक्ला, बाल चन्द्र मिश्र, साध्वी निरंजन ज्योति, करन सिंह पटेल, जिला अध्यक्ष धुन्नी सिंह, विधायक विक्रम सिंह और कृष्णा पासवान थे। 

Uttar Pradesh, India