यूपी: फिर सुलगा शामली

यूपी: फिर सुलगा शामली

शामली। यूपी का शामली फिर तनाव की चपेट में है। शामली के कांधला में तबलीगी जमात के लोगों के साथ अभद्र बर्ताव की वजह से कल जमकर हंगामा हुआ। हालात इतने बिगड़ गए कि पुलिस को बल प्रयोग करना पड़ा। खबर है कि जमात के लोगों के साथ हुए दुर्व्यवहार के बाद इन लोगों ने रेलवे से कार्रवाई की मांग की लेकिन उन्हें टाल दिए जाने के बाद लोगों में गुस्सा बढ़ा।

नाराज लोगों ने कार्रवाई की मांग करते हुए कांधला रेलवे स्टेशन पर हंगामा किया। आक्रोशित लोगों ने कांधला-बुढ़ाना रेल ट्रैक पर कब्जा कर लिया। पुलिस ने उपद्रवियों से निपटने के लिए लाठीचार्ज भी किया। इसके बाद भीड़ बेकाबू हो गयी। भीड़ ने थाने में खड़ी गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया।

शुक्रवार रात ट्रेन में जमातियों से मारपीट का मामला शनिवार सुबह फिर गरमा गया। सुबह पौने छह बजे कैराना से सपा विधायक नाहिद हसन के नेतृत्व में भीड़ ने कांधला-बुढ़ाना रेलवे फाटक उखाड़कर ट्रैक जाम कर दिया। इससे दिल्ली से आ रही बीकानेर-हरिद्वार एक्सप्रेस को आउटर और डीएमयू को कांधला स्टेशन पर रोक लिया गया। सूचना पर पहुंचे डीएम व एसपी ने लोगों को कार्रवाई का आश्वासन देकर ट्रैक से हटाया। नाहिद हसन और पालिकाध्यक्ष वाजिद हसन वहां से चले गए। कुछ देर बाद भीडम् फिर फाटक पर पहुंच गई बवाल शुरू हो गया।

स्थिति बिगड़ती देख डीएम ने लाठीचार्ज के आदेश दिए। इस पर उपद्रवी पुलिस पर पत्थर फेंकने लगे। पथराव में एसपी विजय भूषण समेत कई पुलिसकर्मी भी चोटिल हो गए। कुछ उपद्रवियों ने कांधला थाने में घुसकर वाहनों में तोड़फोड़ की और कुछ वाहनों में आग लगा दी। इस दौरान फायरिंग में कैराना का युवक दीन मोहम्मद घायल हो गया। भगदड़ में रामड़ का मुस्तकीम और फुरकान भी घायल हुए। 

कांधला में टकराव की सूचना पर कैराना में सुबह नौ बजे कई लोग मोहल्ला छड़ियान के पास घरों से निकल आए और बाजार बंद करा दिया। कांधला अड्डे पर भीड़ ने जाम लगा दिया। पानीपत रोड से कैराना की ओर आने वाली रोडवेज बस में पथराव किया गया। घटना के समय कैराना का फोर्स कांधला भेजा गया था। बाद में टिटौली निवासी गोपाल की कार में तोड़फोड़ कर उससे मारपीट की गई। किसी तरह से कैराना में भी पुलिस ने स्थिति नियंत्रित की। 

शुक्रवार शाम दिल्ली से शामली आ रही ट्रेन में बैठे जमातियों से कासिमपुर खेड़ी और एलम स्टेशन के बीच कुछ शरारती तत्वों ने अभद्रता की। विरोध करने पर युवकों ने जमातियों को पीट दिया और अगले स्टेशन पर उतरकर भाग गए। सूचना मिलने पर मुस्लिम समाज ने शुक्रवार शाम कांधला थाने का घेराव किया था। विधायक के नेतृत्व में लोगों ने चेतावनी दी कि शनिवार शाम छह बजे तक आरोपियों की गिरफ्तारी न होने पर ट्रेन रोकेंगे, लेकिन शनिवार सुबह ही भीड़ ट्रेन रोकने पहुंच गई। 

 

रुड़की। कांधला में बवाल के बाद रुड़की क्षेत्र में भी सुरक्षा बढ़ा दी गई है। रुड़की क्षेत्र में कोई घटना न हो इसे देखते हुए शहर से लेकर देहात तक पुलिस अफसरों ने अधीनस्थों को अलर्ट रहने के निर्देश दिए हैं। वहीं, बवाल की वजह से कांधला से होते हुए बीकानेर से हरिद्वार आने वाली समर एक्सप्रेस ट्रेन भी अपने निर्धारित समय से करीब चार घंटे देरी से रुड़की रेलवे स्टेशन पर पहुंची। इससे यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ा। उधर, मुस्लिम धार्मिक नेताओं ने भी कांधला में हुई घटना की तीखी निंदा की है।

 

India