किसानों को दिए चेक बाउंस होना उनके ज़ख्मों पर नमक छिड़कना है: राजपूत

किसानों को दिए चेक बाउंस होना उनके ज़ख्मों पर नमक छिड़कना है: राजपूत

लखनऊ: मथुरा और अन्य जगहों पर ओलावृष्टि से हुए फसलों के नुकसान की भरपाई के लिए किसानों को राज्य सरकार द्वारा दिये गये चेकों का बाउन्स होना न सिर्फ सरकार के लिए अपमानजनक है बल्कि किसानों के सााथ किया गया भद्दा मजाक है किसान वैसे भी अपनी  फसलों के नष्ट होने के कारण जगह-जगह पर सरकारी उदासीनता के कारण आत्महत्या कर रहा है दूसरी तरफ प्रदेश सरकार उसके जख्मों पर नमक छिड़ककर किसानों का अपमान कर रही है।आश्चर्य की बात है कि राज्य सरकार के चेक बैंकों में सम्पूर्ण राशि न होने के कारण बाउन्स हो रहे हैं जिससे पता चलता है कि प्रदेश सरकार किसानों को सहायता देने में किस कदर उदासीन है। अगर राहत राशि सरकारी बैंकों में नहीं पहुंचायी गयी है तो राज्य सरकार को राहत राशि के चेक देकर किसानों के साथ ऐसा भद्दा मजाक करने का कोई हक नहीं है। 

प्रदेश कंाग्रेस के प्रवक्ता सुरेन्द्र राजपूत ने आज जारी बयान में कहा कि जहां एक ओर किसानों के चेक बाउन्स हो रहे हैं वहीं दूसरी ओर प्रदेश सरकार के सबसे शक्तिशाली कबीना मंत्री शिवपाल सिंह यादव सार्वजनिक कार्यक्रमों में सोने का मुकुट पहन रहे हैं और नृत्य का आनन्द ले रहे हैं। 

राजपूत ने प्रदेश सरकार के मुखिया से मांग की है कि किसानों को तत्काल राहत राशि उपलब्ध करायी जाय जिससे किसानों के जख्मों पर मरहम लग से तथा वह कोई आत्महत्या जैसा अतिवादी कदम न उठायें। साथ ही चेक बाउन्स होने की घटना को गंभीर बात मानते हुए दोषी अधिकारियों के खिलाफ कठोर दण्डात्मक कार्यवाही की जाय। 

Lucknow, Uttar Pradesh, India