सानिया मांगे मोर ग्रैंड स्लैम्स

सानिया मांगे मोर ग्रैंड स्लैम्स

हैदराबाद: विश्व महिला युगल रैंकिंग में नंबर एक बनी भारतीय स्टार टेनिस खिलाड़ी सानिया मिर्जा ने कहा कि वह संन्यास लेने से पहले और अधिक ग्रैंडस्लैम खिताब जीतना चाहती हैं। हाल में दुनिया की नंबर एक खिलाड़ी बनी सानिया ने मिश्रित युगल में तीन ग्रैंडस्लैम खिताब जीते हैं।

सानिया ने संवाददाताओं से कहा, ‘मुझे टेनिस खेलना पसंद है। मुझे अभ्यास और कड़ी मेहनत करना पसंद है। मुझे प्रतिस्पर्धा पसंद है। मैं जब तक लुत्फ उठाती रहूंगी तब तक खेलती रहूंगी। मैं अधिक उपलब्धि हासिल करना चाहती हूं। बेशक कभी कोई चीज पर्याप्त नहीं होती। अगर रोजर फेडरर आज भी खेल रहा है तो सभी को खेलना चाहिए। संन्यास लेने से पहले मैं कुछ और ग्रैंडस्लैम जीतना चाहती हूं। कुछ बड़े टूर्नामेंट होने वाले हैं।’ यहां फेड कप में भारत की कप्तानी कर रही सानिया ने कहा, ‘मैं रविवार रात को स्टुटगार्ट जा रही हूं।’ एक सवाल के जवाब में सानिया ने कहा कि वह मार्टिन हिंगिस के साथ जोड़ी बनाए रखेंगी जिसके साथ वह काफी सफल रही हैं।

सानिया ने कहा कि 2010 में शादी करना और सिर्फ युगल मुकाबलों को खेलना उनके करियर के दो सबसे महत्वपूर्ण फैसले हैं। उन्होंने कहा, ‘वर्ष 2010 में मैंने सोचा कि मेरा करियर खत्म हो गया। मेरी कलाई में समस्या थी और मैं अपने बालों में कंघी तक नहीं कर पा रही थी। उस समय टेनिस खेलने का सवाल ही नहीं था। इसलिए मेरा एक फैसला शादी करने का था। दूसरा फैसला मैंने तब किया जब मैं युगल खेलने लगी। उस समय यह कड़ा फैसला था।’