यमन में यूएनओ के शांति दूत का इस्तीफा

यमन में यूएनओ के शांति दूत का इस्तीफा

संयुक्त राष्ट्र : यमन में संयुक्त राष्ट्र के शांति दूत जमाल बेनोमार ने संकटग्रस्त देश में उनके अभियान को लेकर खाड़ी देशों का समर्थन खोने के बाद अपने पद से इस्तीफा दे दिया। मोरक्को के राजनयिक 2012 से यमन में संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की मून के विशेष दूत थे।

संयुक्त राष्ट्र के एक अधिकारी ने अपना नाम गुप्त रखने की शर्त पर बताया कि बेनोमार ने यमन में संयुक्त राष्ट्र के दूत के तौर पर ‘अपने पद से इस्तीफा देने की इच्छा जाहिर की है।’ अधिकारी ने बताया कि जो लोग उनका स्थान ले सकते हैं, उनमें मॉरिशस के राजनयिक इस्माइल औल्द शेख अहमद शामिल हैं जो इस समय अकरा में संयुक्त राष्ट्र के इबोला अभियान का नेतृत्व कर रहे हैं।

बेनोमार ने ऐसे समय पर इस्तीफा दिया है जब संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने यमन में शांति वार्ता पुन: शुरू करने और हिंसा समाप्त करने की अपील करते हुए एक प्रस्ताव पारित किया है। यमन में शिया विद्रोहियों को आगे बढ़ने से रोकने के लिए सउदी अरब नीत गठबंधन के 26 मार्च को हवाई हमले शुरू करने के बाद से हिंसक घटनाएं और बढ़ गई हैं।

खाड़ी देशों ने बेनोमार पर आरोप लगाया है कि उन्हें हुतियों ने धोखा बनाया। बेनोमेर ने शांति वार्ताएं आयोजित की जबकि विद्रोही अधिक क्षेत्र पर कब्जा करने के लिए आक्रमण करते रहे।