कनाडा में मोदी यूपीए को गन्दगी फैलाने वाला बताया

कनाडा में मोदी यूपीए को गन्दगी फैलाने वाला बताया

टोरंटो: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कनाडा में टोरंटो के रिकोह कोलेजियम स्डेयिम में भारतीय मूल के लोगों को संबोधित करते हुए इस बात पर जोर दिया कि भारत में उनके सत्ता संभालने के बाद करीब 10 माह में विश्वास का एक नया माहौल बना है। उन्होंने विकास को हर समस्या का समाधान बताते हुए दूसरों द्वारा छोड़ी गई गंदगी को साफ करने का संकल्प जताया। इशारों-इशारों में पुरानी सरकार पर निशाना साधते हुए पीएम ने कहा कि जिन्होंने गंदगी फैलाई, वे अब चले गए हैं। अब हमें सफाई करनी है।

पीएम मोदी ने अपने संबोधन में कहा, हमारे देश में विश्वास का नया माहौल है... हम कहते हैं 'जन गण मन अधिनायक' मतलब 'जन मन' बदला है। प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत

पीएम ने कहा कि देश के पास वे सभी क्षमताएं हैं, जिनकी उसे जरूरत है, अब सिर्फ अवसरों की आवश्यकता है। इस दौरान पीएम ने चतुरंगी क्रांति का भी जिक्र किया। उन्होंने कनाडा में रहने वाले लोगों के लिए कई नई नीतियों का भी ज़िक्र किया और ई-वीज़ा शुरू करने की बात कही। प्रधानमंत्री के संबोधन के दौरान वहां मौजूद लोग उत्साहित होकर बार-बार 'मोदी, मोदी' के नारे लगा रहे थे।

पीएम ने बॉलीवुड का एक गीत याद करते हुए कहा कि 10 माह पहले भारत में सरकार बदली थी और अब लोगों की प्रकृति बदल गई है। भारत की सबसे बड़ी निधि उसके युवा हैं और उनका लक्ष्य उन्हें 'रोजगार सृजित करने वालों' के रूप में देखना है।

पीएम मोदी ने कहा, 80 करोड़ की युवा आबादी, 80 करोड़ सपने, 160 करोड़ मजबूत हाथ... ऐसा क्या है, जो हम हासिल नहीं कर सकते? उन्होंने कहा कि वह युवाओं को रोजगार की तलाश करने वाले नहीं, बल्कि रोजगार सृजित करने वाले लोगों के रूप में देखना चाहते हैं।

मोदी ने कहा, जब मैं गुजरात का मुख्यमंत्री था, तभी से कनाडा के साथ काम करने का मेरा अनुभव हमेशा अच्छा रहा है। कनाडा ने 2003 में गुजरात के साथ काम किया था। पिछले 42 साल में कनाडा की यात्रा करने वाले मोदी पहले भारतीय प्रधानमंत्री हैं।