धरती पुत्र में किसानों को सामना करने का साहस नहीं: डाॅ0 बाजपेयी

धरती पुत्र में किसानों को सामना करने का साहस नहीं: डाॅ0 बाजपेयी

ग़ाज़ीपुर/आंबेडकर नगर:  भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डाॅ0 लक्ष्मीकान्त बाजपेयी आज गाजीपुर और अम्बेडकरनगर जिला के प्राकृतिक ओलावृष्टि प्रभावित खेतों का जायजा लिया और पीडित किसानों के दुख दर्द को बांटा। 

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता डाॅ0 चन्द्रमोहन ने बताया कि भारतीय जनता पार्टी किसानों के संकट में पूर्णरूपेण उनके साथ है। भारतीय जनता पार्टी नेतृत्व की केन्द्र सरकार ने आपदा राहत में संशोधन किया है। भारतीय पार्टी प्रदेश अध्यक्ष डाॅ0 लक्ष्मीकान्त बाजपेयी ने गाजीपुर के मर्दा ब्लाक के तिसेरा गांव में जाकर जब किसानों से चर्चा कि तो चैकाने वाले तथ्य सामने आये । भूसा तक नही मिलेगा किसानों को खेतो में 100 प्रतिशत तक नुकसान हुआ है। लेकिन सरकारी मशीनरी दफ्तर में बैठकर ही सरकार के निर्देश पर नुकसान का भेदभाव पूर्ण फर्जी आंकलन कर रही है। 

डाॅ0 बाजपेयी ने कहा कि सपा सुप्रीमों खुद को धरती पुत्र कहलाने में गर्व महसूस करते लेकिन इस संकट का सामना करने का साहस सपा के नेताओं में है और न ही सपा सपा सरकार के मुख्यमंत्री और मंत्रियों में ही है। लेखपाल से लेकर जिलाधिकारी तक किसानों से भददा मजाक कर रहे है। प्रदेश सरकार वोट बैंक की राजनीति कर रही है और जानबूझ  कर केन्द्र सरकार को बदनाम करने की साजिश को ही प्राथमिकता दे रही है। 

प्रदेश अध्यक्ष डाॅ0 लक्ष्मीकान्त बाजपेयी, प्रदेश मंत्री अनूप गुप्ता, जगदीश सिंह, जय प्रकाश, सर्वजीत मलई राजभर, मुकुन चैहान के खेतों पर गये उनके साथ क्षेत्रीय अध्यक्ष लक्ष्मण राय,  जिला अध्यक्ष कृष्ण बिहारी राय, रामनरेश कुशवाहा, सुनील सिंह, ओम प्रकाश राय, कमलेश सिंह, आदि उपस्थित थे। 

Uttar Pradesh, India