बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड ने झटका सहारा का दामन

बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड ने झटका सहारा का दामन

ढाका। बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड (बीसीबी) ने सहारा इंडिया परिवार से अपना करार तय समय से 15 महीने पहले ही खत्म कर लिया है। इसके साथ ही बीसीबी ने अब पाकिस्तान के खिलाफ इस महीने शुरू हो रहे श्रृंखला के लिए नया प्रायोजक खोजने की कवायद भी शुरू कर दी है। सहारा और बीसीबी ने 2012 में 1.4 करोड़ डॉलर में चार साल का अनुबंध किया था और बांग्लादेश की क्रिकेट इतिहास का सबसे बड़ा करार रहा।तय शर्तो के अनुसार यह अनुबंध अगले साल जून में खत्म होना था लेकिन बीसीबी द्वारा 30 मार्च को एक दैनिक समाचार पत्र में दिए गए विज्ञापन से अनुबंध के खत्म होने की पुष्टि हो गई। बीसीबी ने इस विज्ञापन में नए प्रायोजकों को आमंत्रित किया था। एक क्रिकेट वेबसाइट के अनुसार बीसीबी के मुख्य कार्यकारी निजामुद्दीन चौधरी ने भी इसकी पुष्टि करते हुए कहा,हमने सहारा से करार खत्म करने का फैसला किया है। इसलिए हमने यह विज्ञापन दिया। चौधरी ने हालांकि समय से पहले खत्म हुए इस करार के बाद बोर्ड पर पड़ने वाले आर्थिक प्रभाव का खुलासा नहीं किया। चौधरी ने कहा कि करार खत्म होने के बारे में विस्तृत जानकारी अभी नही दी जा सकती।