ऑल राउंडर्स की आईसीसी रैंकिंग में शीर्ष पांच पर एशियाई

ऑल राउंडर्स की आईसीसी रैंकिंग में शीर्ष पांच पर एशियाई

नई दिल्ली: एक समय ऐसा था जहां ऑल राउंडर की बात की जाए तो बहुत कम खिलाडियों के नाम सामने आते थे, लेकिन अब वह जमाना नहीं रहा। क्रिकेट बदल चुका है, किसी भी टीम में एक ऑल राउंडर की भूमिका काफी महत्वपूर्ण है। पहले जब भी बेहतरीन ऑल राउंडर की चर्चा होती थी तब कपिल देव, इमरान खान, रिचर्ड हेडली, इयान बॉथम के नाम लिए जाते थे। हर टीम में कोई न कोई अच्छा ऑल राउंडर है। आईसीसी द्वारा ऑल राउंडर की सूची जारी की गई है। सूची में टॉप पांच सिर्फ एशियाई खिलाड़ी हैं। 

इस वर्ल्डकप में तिलकरत्ने दिलशान दुनिया के सबसे बेहतरीन ऑल राउंडर हैं। श्रीलंका के खिलाड़ी दिलशान एक शानदार बल्लेबाज हैं, लेकिन जरूरत पड़ने पर बोलिंग भी करते हैं और इन्होंने बोलिंग से टीम को जिताया भी है।

दिलशान ने अभी तक 311 एक-दिवसीय मैच खेले हैं और 39.46 की औसत से 9630 रन बनाए हैं जिसमें 21 शतक और 42 अर्द्धशतक शामिल हैं और उतने ही मैच में बोलिंग करते हुए उन्हें 100 विकेट भी लिये हैं। 2011 वर्ल्डकप में दिलशान ने सबसे ज्यादा रन बनाए थे। सिर्फ ऑल राउंडर नहीं, आईसीसी के द्वारा दिए गए बेहतरीन बल्लेबाजी की सूची में भी दिलशान पांचवे नंबर पर हैं। दिलशान श्रीलंका टीम के कप्तान भी रह चुके हैं।

शाकिब के प्रदर्शन की वजह से बांग्लादेश ने पिछले कुछ मैचों में अच्छा प्रदर्शन करते हुए अपने में सुधार किया है।

तीनों फॉर्मेट यानि टेस्ट, एक-दिवसीय और टी-20 में शाकिब ऑल राउंडर के रूप पहले स्थान पर रह चुके हैं। शाकिब ने 142 एक-दिवसीय मैच में करीब 35 की औसत से 4040 रन बनाए हैं, जिसमें छह शतक और 27  अर्द्धशतक शामिल हैं और शाकिब ने 184 विकेट भी हासिल किए हैं। शाकिब बांग्लादेश के कप्तान भी रह चुके हैं। 2009 से 2011 और 2012 में भी शाकिब एक-दिवसीय मैच में ऑल राउंडर के रूप में पहले स्थान पर थे। 2001 में शाकिब अल हसन को 'विजडम क्रिकेट ऑफ़ द ईयर' के अवार्ड से भी नवाज़ा गया था।

श्रीलंका के कप्तान एंजेलो मैथ्यूज लोअर आर्डर बैट्समैन के साथ-साथ मध्यम गति के बोलर भी हैं।

कप्तान के रूप में मैथ्यूज ज्यादा सफल तो नहीं हुए, लेकिन एक अच्छे ऑल राउंडर के रूप में जरूर सफल हुए हैं। एंजेलो अभी तक 153 एक-दिवसीय मैच खेल चुके हैं और 40.41 की औसत से 3678 रन बनाए हैं और 96 विकेट लेने में भी सफल हुए हैं।

आईसीसी रैंकिंग में चौथे नंबर पर जो खिलाड़ी है वह पाकिस्तान के मोहम्मद हफ़ीज़ हैं।

ये चोट की वजह से इस बार के वर्ल्डकप में पाकिस्तान की टीम का हिस्सा नहीं बन पाए हैं। पाकिस्तान के लिए हफ़ीज़ ने 155 एक-दिवसीय मैच खेलते हुए 4542 रन बनाए हैं। उन्होनें 112 खिलाड़ियों को आउट भी किया है।

पाकिस्तान के सबसे अनुभवी खिलाड़ी शाहिद अफरीदी ऑल राउंडरों की सूची में पांचवें नंबर पर हैं।

पाकिस्तान की तरफ से अफरीदी ने सबसे ज्यादा एक-दिवसीय मैच खेलने का रिकॉर्ड बनाया है। अफरीदी अब तक 394 एक-दिवसीय मैच खेल चुके हैं और वह 7998 रन के साथ-साथ 393 विकेट हासिल करने में भी सफल हुए हैं।

अगर भारत की बात की जाए तो कपिल देव की तरह कोई अच्छा ऑल राउंडर नहीं मिला है। लेकिन रविन्द्र जडेजा, रविचंद्रन आश्विन, स्टुअर्ट बिन्नी जैसे ऑल राउंडर टीम में हैं। जहां आश्विन ने टेस्ट में ऑल राउंडर के रूप अच्छा प्रदर्शन किया है, वहीं, एक-दिवसीय मैच में उनका प्रदर्शन ठीक नहीं रहा। आश्विन ने अभी तक 24 टेस्ट मैच में करीब 36 की औसत से 1007 रन बनाए हैं और 119 विकेट भी हासिल किए हैं।

 एक-दिवसीय मैच में आश्विन ने 90 मैच खेले हैं और सिर्फ 629 रन बनाए हैं और 124 विकेट हासिल किए हैं। अगर रविन्द्र जडेजा की बात की जाए तो एकदिवसीय मैच में एक ऑल राउंडर के रूप में उनका प्रदर्शन ठीक रहा, लेकिन टेस्ट में ऑल राउंडर के रूप में वह फेल हुए हैं। जडेजा ने 113 एकदिवसीय मैच खेले हैं और करीब 33 की औसत से 1701 रन बनाए और 136 विकेट भी हासिल किए हैं। आईसीसी रैंकिंग में जडेजा सातवें नंबर पर हैं।

अगर बैटिंग की बात किया जाये तो टॉप तीन बल्लेबाज के रूप में एबी डिविलियर्स, कुमार संगकारा और हाशिम आमला है, और बोलिंग में सईद अजमल, सुनील नरेन, डेल स्टेन पहले, दूसरे और तीसरे स्थान पर क्रमश: शामिल हैं।