JNU में हिंसा सरकार प्रायोजित गुंडागर्दी है: कांग्रेस

JNU में हिंसा सरकार प्रायोजित गुंडागर्दी है: कांग्रेस

जयराम रमेश ने जम्मू कश्मीर में विदेशी प्रतिनिधिमंडल के दौरे को बताया राजनीतिक पर्यटन

नई दिल्ली: कांग्रेस ने जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) में पिछले दिनों हिंसा को लेकर बृहस्पतिवार को आरोप लगाया कि इस घटना के लिए गृह मंत्री अमित शाह एवं मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक जिम्मेदार हैं।इसके अलावा जम्मू कश्मीर में विदेशी प्रतिनिधिमंडल के दौरे पर भी सवाल उठाये|

पार्टी के वरिष्ठ नेता जयराम रमेश ने यह भी कहा कि इस हिंसा में शामिल लोगों की तत्काल गिरफ्तारी होनी चाहिए तथा कुलपति एम जगदीश कुमार को तत्काल हटाया जाना चाहिए। उन्होंने संवाददाताओं से कहा, ‘‘जेएनयू की घटना के पीछे मानव संसाधन विकास मंत्री और गृह मंत्री दोनों शामिल हैं। यह आधिकारिक रूप से प्रयोजित गुंडागर्दी थी। 72 घंटे हो गए, लेकिन कोई गिरफ्तारी नहीं हुई।’’ उन्होंने कहा, ‘‘हमारी मांग है कि जिनकी पहचान हो गयी है उनको गिरफ्तार किया जाए। यह भी साफ है कि इस कुलपति के रहते सामान्य स्थिति नहीं हो सकती। इस कुलपति का त्याग पत्र लेना जरूरी है।’’ रमेश ने यह भी कहा कि छात्रों की जो मांगें हैं उन पर भी विचार होना चाहिए।

संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) के खिलाफ विरोध प्रदर्शनों के दौरान मुंबई में ‘फ्री कश्मीर’ वाले पोस्टर पर उन्होंने कहा कि जो भी कानून के दायरे से बाहर होगा, कांग्रेस उसके खिलाफ है।

जम्मू कश्मीर में विदेशी प्रनिधिमण्डल के दौरे को राजनीतिक पर्यटन हुए जयराम रमेश ने कहा कि कांग्रेस मांग करती है की यह सब ड्रामेबाज़ी बंद हो और वहां जल्द से जल्द राजनीतिक गतिविधियां आरम्भ हों|