गोडसे को देशभक्त बता भाजपा सांसद ने संसद की गरिमा को तार तार किया: अजय कुमार लल्लू

गोडसे को देशभक्त बता भाजपा सांसद ने संसद की गरिमा को तार तार किया: अजय कुमार लल्लू

कांग्रेस ने गाँधी प्रतिमा पर किया विरोध प्रदर्शन, प्रज्ञा ठाकुर की सदस्यता ख़त्म करने की मांग

लखनऊ: लोकसभा में भारतीय जनता पार्टी की सांसद व रक्षा मंत्रालय की सलाहकार समिति की सदस्य प्रज्ञा ठाकुर द्वारा राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के हत्यारे नाथू राम गोंडसे को देशभक्त बताये जाने के विरोध में राजधानी लखनऊ में आज प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू के नेतृत्व में सैंकड़ों की संख्या में कांग्रेस द्वारा जीपीओ पार्क स्थित राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी की प्रतिमा के पास धरना देकर विरोध प्रदर्शन किया गया। इस मौके पर प्रज्ञा ठाकुर शर्म करो, प्रज्ञा ठाकुर को बर्खास्त करो, जो गोंडसे का यार है देश का गद्दार है, जैसे नारे लगाकर विरोध किया गया।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने धरने को सम्बोधित करते हुए कहा कि देश की वर्तमान सत्तासीन भाजपा की सांसद ने लोकतंत्र के मंदिर, संसद में जो कल बयान दिया उसने संसद की गरिमा को तार-तार करने का काम किया है। साथ ही पूरे देश में लोगों को गहरा आघात पहुंचाया है। कांग्रेस पार्टी गांधी जी के सिद्धान्तों पर चलते हुए उनके विचारों को मानने वाली पार्टी है। उन्होने कहा कि यह देश गांधी के विचारों से चलता है। गांधी जी ने अहिंसा का सहारा लेते हुए देश की एकता-अखंडता, संप्रभुता को कायम रखने ने के लिए अपने प्राणों की आहुति दे दी। जिन लोगों ने उनकी हत्या की, ऐसे लोगों का लोकतंत्र के मंदिर और देश की सबसे बड़ी पंचायत, संसद में भाजपा की सांसद ने उनके हत्यारे का महिमामंडन करने का कुकृत्य किया है। कांग्रेस पार्टी इसकी घोर भतर््सना और निन्दा करती है। जो लोग इस तरह की घटनाओं में लिप्त थे, इस तरह के मुकदमें में वांछित थे, उन लोगों को टिकट देकर सांसद बनाया और उन्हें प्रोत्साहित करके संघ और भाजपा ने जो कल उदाहरण पेश किया, वह भारत के लोकतंत्र के लिए काले दिन के रूप में जाना जाएगा। एक तरफ भाजपा गांधी जी की 150वीं जयंती पर पंचायतों का आयोजन करती है, पूरे देश-प्रदेश में जगह-जगह पदयात्राएं आयोजित करती है विधानसभाओं और संसद का विशेष सत्र बुलाकर गांधी जी पर चर्चा करती है और दूसरी तरफ उनके सांसद के बयान ने देश के लोगों की आत्मा के ऊपर बड़ा चोट करने का काम किया है। आज पूरे देश में आंदोलन चल रहा है। आंदोलन के माध्यम से भाजपा के लोगों और सरकार को बताना चाहते हैं कि आपका चरित्र पूरे देश के सामने उजागर हो चुका है अब आपको तय करना पड़ेगा कि आप गांधी जी के साथ हैं अथवा गोंडसे की विचारधारा को मानने का काम करेंगे। इसके पहले भी जब प्रज्ञा ठाकुर ने बयान दिया था तो तमाम सांसदों ने और प्रधानमंत्री ने कहा कि हम दिल से माफ नहीं कर सकते। इसके बाद रक्षा मंत्रालय जैसी जगह पर सदस्य बनाया, संसद में बोलने के लिए मौका देना, उत्साहित करना, यह कैसा संदेश देने का काम करता है? प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि लगातार भाजपा के सांसद और मंत्री अब ट्वीट कर रहे हैं और सफाई दे रहे हैं। उन्होने कहा कि अब सफाई और ट्वीट करने से काम नहीं चलेगा। कांग्रेस पार्टी मांग करती है कि अगर आप गांधी के विचारों के साथ हैं वास्तव में आप गांधी जी के विचारों को मानते हुए 150वीं जयंती मना रहे हैं तो अविलम्ब प्रज्ञा ठाकुर की सदस्यता को खत्म करिये, उनको पार्टी से निकालने का काम करिए और उनके खिलाफ राष्ट्रद्रोह का मुकदमा दर्ज कराइये। अन्यथा मौन सहमति इस बात को साबित करने का काम करेगी कि आप गोंडसे को मानने वाले लोग हैं, गांधी जी के साथ और उनके विचारों के साथ नहीं हैं। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि कांग्रेस की यह लड़ाई जारी रहेगी जब तक भारतीय जनता पार्टी, प्रज्ञा ठाकुर की सदस्यता समाप्त नहीं करती।

Lucknow, Uttar Pradesh, India