भारतीय विमानों के लिए पाकिस्तान ने खोला एयरस्‍पेस

भारतीय विमानों के लिए पाकिस्तान ने खोला एयरस्‍पेस

इस्‍लामाबाद : पाकिस्‍तान ने सभी असैन्‍य विमानों के लिए अपने हवाई क्षेत्र खोल दिए हैं, जिससे भारतीय विमान कंपनियों के विमान जल्‍द ही पाकिस्‍तानी हवाई क्षेत्र से उड़ान भरने लगेंगे। पाकिस्‍तान ने बालाकोट एयर स्‍ट्राक के बाद से ही भारतीय विमानों के लिए अपने हवाई क्षेत्र बंद कर रखे थे, लेकिन अब इसे खोलने का फैसला लिया गया है। यह फैसला सोमवार देर रात 12:41 बजे लिया गया, जिसके बाद भारतीय विमान जल्‍द ही पाकिस्‍तानी हवाई क्षेत्र से होते हुए सामान्‍य रूटों पर उड़ान भर सकेंगे।

पाकिस्‍तान का यह कदम एयर इंडिया के लिए खास तौर पर राहतभरा है, जिसे पाकिस्‍तानी एयर स्‍पेस बंद होने के कारण बड़ा नुकसान हुआ है। पाकिस्‍तानी एयर स्‍पेस बंद होने के कारण एयर इंडिया को दिल्‍ली से यूरोप के विभिन्‍न देशों और अमेरिका जाने वाली कई अंतराष्‍ट्रीय उड़ानों के मार्ग परिवर्तित करने पड़े तो कई अन्‍य को री-शिड्यूल करना पड़ा, जिसके कारण अब तक इसे करीब 491 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है। पाकिस्‍तानी एयर स्‍पेस बंद होने के कारण एयर इंडिया ही नहीं, बल्कि निजी विमानन कंपनियों स्‍पाइस जेट, इंडिगो, गोएयर को भी करोड़ों का नुकसान हुआ है।

पाकिस्‍तान ने 26 फरवरी को बालाकोट में भारतीय वायुसेना की ओर से की गई एयर स्‍ट्राइक के बाद से ही एयर स्‍पेस बंद कर रखे थे। भारतीय वायु सेना की ओर से यह कार्रवाई जम्‍मू एवं कश्‍मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद की गई थी, जिसमें सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे। बालाकोट एयर स्‍ट्राइक के बाद पाकिस्‍तान ने अपने हवाई क्षेत्र को पूरी तरह बंद कर दिया था। बाद में पाकिस्‍तान ने अपने हवाई क्षेत्र के ज्ञात 11 रूट में से सिर्फ दो खोले थे, जो दक्षिणी हिस्‍से से गुजरते थे।

पुलवामा हमले और बालाकोट एयर स्‍ट्राइक के बाद भारत ने भी अपने हवाई क्षेत्र पर अस्‍थाई प्रतिबंध लगाए थे, बाद में इसे हटा लिया गया। वायुसेना ने 31 मई को कहा था कि भारतीय हवाई क्षेत्र पर लगे अस्‍थाई प्रतिबंध को हटा लिया गया है। पर इससे कमर्शियल उड़ानों को बहुत फायदा नहीं हुआ, क्‍योंकि पाकिस्‍तान ने अपने एयर स्‍पेस नहीं खोले थे।