कांग्रेस का हाथ थामेंगे भाजपा के कीर्ति आज़ाद!

कांग्रेस का हाथ थामेंगे भाजपा के कीर्ति आज़ाद!

नई दिल्ली: भारतीय जनता पार्टी के बागी सांसद और 1983 क्रिकेट वर्ल्ड कप जीतने वाली भारतीय टीम के ऑल-राउंडर रहे कीर्ति आजाद अब कांग्रेस का दामन थामने जा रहे हैं। बीजेपी से नाराज चल रहे कीर्ति आजाद राहुल गांधी की मौजूदगी में 15 फरवरी को कांग्रेस में शामिल होंगे। कीर्ति आजाद का कहना है कि उन्होंने पिछले 26 सालों से लगातार ईमानदारी से पार्टी की सेवा की है लेकिन बदले में पार्टी ने उनकी पीठ में छूरा भोंकने का काम किया है। ‘द टेलिग्राफ’ को दिए इंटरव्यू में आजाद ने कहा, “बीजेपी ने मेरी पीठ में छूरा भोंका है। जबकि मैंने 26 सालों तक पार्टी निष्ठा एंव कर्मठता से सेवा की। अब सिर्फ कांग्रेस ही एक मात्र राष्ट्रीय पार्टी हैं जहां मैं जा सकता हूं।”

बिहार के दरभंगा से तीन बार सांसद रहे कीर्ति आजाद ने बीजेपी के खिलाफ जमकर हमला बोला। उन्होंने आरोप लगाए कि पार्टी में अब तानाशाही चल रही है और इसे सिर्फ ढाई लोग मिलकर चला रहे हैं। अब यहां जुमलेबाजी से लोगों को मुर्ख बनाने का काम किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि बीजेपी ईमानदारी की बात तो करती है लेकिन अपने भीतर भ्रष्टाचार को दबाए हुए है। ‘द टेलिग्राफ’ से बातचीत में आजाद ने कहा, “बीजेपी में अब सब कुछ बदल चुका है। यह सामूहिक संगठन से बदलकर ढाई लोगों की पार्टी बन चुकी है।” गौरतलब है कि कीर्ति आजाद के पिता भागवत झा आजाद कांग्रेस की तरफ से बिहार के मुख्यमंत्री थे।

कीर्ति आजाद का कहना है कि वह अगला लोकसभा चुनाव कांग्रेस के टिकट पर दरभंगा से ही लड़ेंगे। उन्होंने बताया कि इसके लिए कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्व से बात हो चुकी है। गौरतलब है कि कीर्ति आजाद (60) को 2015 में बीजेपी ने पार्टी विरोधी गतिविधि में शामिल होने और डीडीसीए के कथित भ्रष्टचार में अरुण जेटली पर उंगली उठाने के बाद उन्हें सस्पेंड कर दिया था।