न्यूजीलैंड ने 2-1 से जीती टी20 सीरीज

न्यूजीलैंड ने 2-1 से जीती टी20 सीरीज

हैमिल्टनः न्यूजीलैंड की टीम ने टी20 सीरीज में 2-1 से अपने नाम कर ली। न्यूजीलैंड ने गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन के दम पर सेडन पार्क मैदान पर खेले गए तीसरे और निर्णायक मुकाबले में भारत को चार रनों से मात दी। सीरीज के पहले मैच में न्यूजीलैंड ने रिकॉर्ड 80 रनों से जीत दर्ज की थी वहीं दूसरे मुकाबले में भारतीय टीम ने शानदार वापसीत करते हुए मेजबान कीवी टीम को 7 विकेट से रौंद डाला था। हालांकि मेहमान टीम तीसर मैच में अपने प्रदर्शन को दोहराने में कामयाब नहीं हो सकी। जीत के लिए 213 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम आखिर गेंद चले इस रोमांचक मैच में 208 रन ही बना सकी। भारत की ओर से विजय शंकर ने (43) सबसे ज्यादा रन बनाए। न्यूजीलैंड के लिए मिशेल सैंटनर और डिरेल मिशेन ने दो-दो विकट झटके। वहीं, स्कॉट कुगेलेजिन और ब्लेयर टिकनर को एक-एक विकेट मिला।

इससे पहले न्यूजीलैंड ने टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 20 ओवर में 212 रन विशाल स्कोर खड़ा किया। सलामी बल्लेबाज कोलिन मुनरो (72) ने न्यूजीलैंड की तरफ से सर्वाधिक रन बनाए। मेजबान टीम की शुरुआत बेहद धमाकेदार रही। उनके अलावा टिम साइफर्ट (43), कोलिन डी ग्रांडहोम (30) और केन विलियमसन ने 27 रन का योगदान दिया। वहीं, डेरिल मिशेल 19 और रॉस टेलर 14 रन बनाकर नाबाद लौटे। भारत के लिए कुलदीप यादव ने 2 जबकि भुवनेश्वर कुमार और खलील अहम ने एक-एक विकेट चटकाया।

ऑलराउंडर विजय शंकर अर्धशतक से चूक गए और 43 रन बनाकर अपना विकेट गंवा बैठे। उन्होंने 28 गेंदों की अपनी पारी में 5 चौके और 2 छक्के लगाए। शिखर धवन के आउट होने के बाद क्रीज पर आए विजय ने तेजी से रन बनाए। वह अपने टी20 अंतर्राष्ट्रीय करिया के पहले अर्धशतक की तरफ बढ़ रहे थे मगर मिशेल सैंटर ने उन्हें अपना शिकार बना लिया। उन्होंने सैंटर की गेंद को बाउंड्री के पार भेजने की कोशिश में कोलिन डी ग्रांडहोम को कैच थमा दिया। विजय का विकेट 81 के कुल स्कोर पर गिरा। उन्होंने पहले विकेट जल्द गिरने के बाद रोहित शर्मा के साथ मिलकर दूसरे विकेट के लिए 75 रनों की अहम साझेदारी की।

बड़े लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम ने निराशानजनक आगाज किया। मेहमान टीम ने पहला विकेट महज 6 रन के कुल स्कोर पर गंवा दिया। सीरीज में अब तक सधी हुई बल्लेबाजी करने वाले सलामी बल्लेबाज सिर्फ 5 रन बनाकर पवेलियन लौट गए। उन्हें न्यूजीलैंड की ओर से गेंदबाजी कमान संभालने वाले मिशेल सैंटनर ने पवेलियन की राह दिखाई। वह पहले ओवर की पांचवीं गेंद पर बड़ा शॉट मारना चाहते थे लेकिन डीप मिटविकेट पर डेरिन मिशेल के हाथों लपके गए। धवन ने पहले और दूसरे मैच में क्रमश: 29 और 30 रन की पारी खेली थी।

सलामी बल्लेबाज कोलिन मुनरो तूफानी अर्धशतकीय पारी खेली। उन्होंने 40 गेंदों में 72 रन बनाए। उन्होंने अपनी पारी में 5 चौके और 5 लाजवाब छक्के जड़े। मुनरो ने महज 28 गेंदों में अपने टी20 अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट का नौवां अर्धशतक पूरा कर लिया था। वह अर्धशतक बनाने के बदा और तेजी से रन बनाने की फिराक में 14वें ओवर की दूसरी गेंद पर कुलदीप यादव का शिकार बन गए। वह कुलदीप की गेंद को पिच पर पड़ने के बाद भांप नहीं पाए और गलत शॉट खेल बैठे।

मुनरो ने डीप मिडविकेट पर उठाकर खेलने की कोशिश की लेकिन वहां मौजूद हार्दिक पांड्या ने कैच लपक लिया। मुनरो का विकेट 135 के कुल स्कोर पर गिरा। मुनरो सीरीज के दो मैचों में बड़ी पारी खेलने में नाकाम रहे थे लेकिन तीसरे मैच में वह अपने रंग में लौट आए। पहले मैच में उन्होंने 34 रन बनाए थे जबकि दूसर मैच में वह 20 रन बनाकर अपना विकेट गंवा बैठे थे।

पहले बल्लेबाजी करने उतरी न्यूजीलैंड की टीम ने धामकेदार शुरुआत की। मेजबान टीम को पहला झटका 80 के कुल स्कोर पर लगा। पारी का आगाज करने आए कोलिन मुनरो और टिम साइफर्ट ने ताबड़तोड़ रन जुटाए। दोनों शतकीय साझेदारी की ओर बढ़े रहे थे लेकिन 8वें ओवर की चौथी गेंद पर कुलदीप यादव ने साइफर्ट को स्टंप आउट कर दिया। वह कुलदीप की गेंद पर रक्षात्मक शॉट मारना चाहते थे मगर चूक गए। उन्होंने जैसी शॉट खेलने के लिए बल्ला आग किया गेंद स्विंग होकर विकेटकीपर एमएस धोनी का हाथों में चली गई।

इसके बाद धोनी ने मौका का पूरा फायदा उठाते हुए साइफर्ट की गिल्लियां बिखेर दीं। उन्होंने 25 गेंदों में 43 रन बनाए। उन्होंने अपनी पारी में 3 चौके और 3 छक्के लगाए। साइफर्ट ने सीरीज में शानदार प्रदर्शन किया है। पहले मैच में जहां उन्होंने 84 की पारी खेली वहीं दूसरे मुकाबले में उन्होंने महज 12 रन बनाए।