'Idiot' टाइप करने पर ट्रंप की तस्वीर, सुंदर पिचाई ने दी सफाई

'Idiot' टाइप करने पर ट्रंप की तस्वीर, सुंदर पिचाई ने दी सफाई

नई दिल्ली: गूगल सर्च पर इडियट टाइप करते ही अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की फोटोज शो हो रही हैं। इस घटना से पूरे अमेरिका में हड़कंप मचा हुआ है और गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई की परेशानी बढ़ गई है। सुंदर पिचाई से इस मामले में जवाब तलब किया गया है। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को गूगल पर इडियट यानि बेवकूफ कहते हुए दिखाने के कारण अमेरिकी सांसदों ने इस पर आपत्ति जताई है। साथ ही इसके लिए गूगल के CEO सुंदर पिचाई से पूछाताछ की है। मामले ने तूल पकड़ लिया जब गूगल पर इडियट टाइप करने पर सबसे ऊपर ट्रंप की फोटोज दिखती हैं इतना ही नहीं ट्रंप की ये सभी तस्वीरें काफी फनी भी हैं।

इस मामले में जब सुंदर पिचाई से पूछताछ की गई तो उन्होंने सफाई पेश की और बताया कि गूगल पर इटियट टाइप करते ही ट्रंरप की जो फोटोज दिखाई दे रही हैं वो बेबीस्पिटल ब्लॉग साइट की है। इस साइट पर ट्रंप के खिलाफ बहुत से आर्टीकल लिखे गए हैं। साथ ही इन आर्टीकल्स में डोनाल्ड ट्रंप को बार-बार इडियट कहा गया है।

इस घटना से जुड़े सभी सवालों पर पिचाई ने बताया कि गूगल सर्च इंजन को इस तरह डिजाइन किया गया है कि वो खुद से रिजल्ट शो करता है। इसमें किसी का हस्तक्षेप नहीं है। जब कोई यूजर कीवर्ड डालता है तो वो एल्‍गोरिथम के आधार पर उस वेबपेज और फोटो को खोजता है। जब किसी शब्‍द को बार-बार सर्च किया जाता है, तब सर्च इंजन उस कीवर्ड को लोकप्रिय की श्रेणी में शामिल कर लेता है।

पहले ऐसी खबरें आई थी कि ट्रंप गूगल सर्च में अमेरिकी राष्ट्रपति की गलत छवि बनाने पर कंपनी के खिलाफ कार्रवाई कर सकते हैं। उन्होंने कहा था कि जब से पद संभाला है, मीडिया हमेशा मेरे खिलाफ खबरें चलाता है। ट्रंप ने इसके लिए सीधे गूगल को जिम्मेदार ठहराया था।

सर्च इंजन गूगल पर यदि आप इडियट (Idiot) शब्‍द टाइप करके इमेज पर क्लिक करते हैं तो आपके सामने जो नतीजे आएंगे, उन्‍हें देखकर आप चौंक जाएंगे। गूगल पर इटियट सर्च करते ही आपको अमेरिका के राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप की तस्‍वीर दिखाई देंगी। अमेरिकी सांसदों ने इस पर आपत्ति जताते हुए पिचाई से पूछा कि आखिर ऐसा कैसे हो रहा है?

सुंदर पिचई ने बताया कि ऐसा तकनीकी आधार पर हो रहा है। जानबूझकर कोई डोनाल्‍ड ट्रंप की छवि धूमिल करने की कोशिश नहीं कर रहा है। इसमें कोई मानव हस्‍तक्षेप नहीं है।

उन्‍होंने बताया कि गूगल सर्च इंजन को इस तरह बनाया गया है कि जब किसी शब्‍द को बार-बार ढूंढा जाता है, तब सर्च इंजन उस कीवर्ड को लोकप्रिय की श्रेणी में शामिल कर लेता है लेकिन अमेरिकी कांग्रेसमैन जो लोफग्रेन पिचई के इस जवाब को सही नहीं मान रहे थे उन्‍होंने कहा कि इसके मायने यह हैं कि पर्दे के पीछे बैठकर कोई कुछ भी डिजाइन करता रहे?

फिर पिचाई ने बताया कि गूगल पर इटियट टाइप करते ही ट्रंप की जो फोटोज दिखाई दे रही हैं वो बेबीस्पिटल ब्लॉग साइट की है। इस साइट पर ट्रंप के खिलाफ बहुत से आर्टीकल लिखे गए हैं। साथ ही इन आर्टीकल्स में डोनाल्ड ट्रंप को बार-बार इडियट कहा गया है। डोनाल्ड ट्रंप को लगातार मीडिया से शिकायत रही हैं अब गूगल भी इसकी चपेट में आ गया है।