तेजस्वी ने नितीश सरकार पर की ट्वीटों की बौछार

तेजस्वी ने नितीश सरकार पर की ट्वीटों की बौछार

पटना: आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने मुजफ्फरपुर बालिकागृह मामले को लेकर रविवार को बिहार की नीतीश सरकार पर जमकर हमला बोला है. उन्होंने लगातार तीन ट्वीट करके इस मामले पर सरकार से जवाब मांगा है. दरअसल, तेजस्वी यादव ने “राजग भगाओ बेटी बचाओ” साइकिल यात्रा निकाली थी, जिस पर जेडीयू ने निशाना साधा था और कहा था कि वो तेजस्वी यादव स्टंट कर रहे हैं और कानून अपना काम कर रहा है. विधानसभा में विपक्ष के नेता ने अपनी साइकिल यात्रा पर निशाना साधे जाने के जवाब में लगातार तीन ट्वीट कर बिहार सरकार पर जवाबी हमला बोला है.

तेजस्वी यादव ने अपने पहले ट्वीट में कहा, “मुजफ्फरपुर बलात्कार कांड के मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर पर नीतीश कुमार इस कदर मेहरबान थे कि जिस दिन ब्रजेश ठाकुर के खिलाफ FIR दर्ज हुई, उसी दिन उसको ‘मुख्यमंत्री भिक्षावृत्ति निवारण योजना’ के तहत एक और अल्पावास का टेंडर दे दिया गया. चाचा जी, ये रिश्ता क्या कहलाता है?”

ब्रजेश ठाकुर के खिलाफ ट्वीट के बाद उन्होंने अपने दूसरे ट्वीट में लिखा, “ नीतीश जी के बयानवीर डाइनिंग दोस्तों, महिलाओं की ईज्जत बचाने वाले ‘स्टंट’ करने के लिए कलेजा चाहिए होता है, जो आपके डरपोक नेता में नहीं है. इन्हें तो एक छत के नीचे 34 बच्चियों के साथ बलात्कार करने वाले और उन पापी दरिंदों को बचाने वाले समाज सेवक लगते हैं. शर्म करो, शर्म!”

तेजस्वी यादव यहीं नहीं रूके उन्होंने अपने अंतिम ट्वीट में लिखा, “ जो लंगूर चोर दरवाज़े से सत्ता मे बैठकर अंगूर खा रहे है वो बहन-बेटी की ईज्जत बचाने के लिए शुरू सामाजिक जागरूकता कार्यक्रम को स्टंट बता रहे है. शायद ऐसे लंगूरों को बच्चियों के साथ घिनौने दुष्कर्म करने वाले लोगों से कुछ पेट भरने को मिलता होगा. लानत है ऐसा समाज बनाने वाले बयानवीरों पर.

जो लंगूर चोर दरवाज़े से सत्ता मे बैठकर अंगूर खा रहे है वो बहन-बेटी की ईज्जत बचाने के लिए शुरू सामाजिक जागरूकता कार्यक्रम को स्टंट बता रहे है।शायद ऐसे लंगूरों को बच्चियों के साथ घिनौने दुष्कर्म करने वाले लोगो से कुछ पेट भरने को मिलता होगा।

बता दें कि बिहार के मुजफ्फरपुर के बालिका गृह में बच्चियों से बलात्कार के मामले में सीबीआई ने राज्य सरकार के अनुरोध और भारत सरकार की सिफारिश के बाद पर केस दर्ज कर लिया है.