अस्तित्व की अंतिम लड़ाई के दौर में मजहबी दांव चल रही हैं मायावती:केशव प्रसाद मौर्य

अस्तित्व की अंतिम लड़ाई के दौर में मजहबी दांव चल रही हैं मायावती:केशव प्रसाद मौर्य

लखनऊ: भारतीय जनता पार्टी प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य ने बसपा सुप्रीमों पर जोरदार हमला करते हुए कहा कि बहिन जी ने राजनीति को व्यापार बना लिया है और इस व्यापार में जातियों का बेसवोट बताकर मजहब की सौदेबाजी कर रही है। बहिन जी द्वारा मजहब आधारित अपील करना आदर्श आचार संहित का उल्लघन है। वे सर्वोच्च न्यायालय के ताजे निर्देश का भी उल्लंघन कर रही हैं।

श्री मौर्य ने कहा कि बहिन जी चुनाव से डरी हुई है। वे संभावित पराजय से घबराई हुई है। सपा और बसपा की सरकारों ने प्रदेश लूटा है। सपा सरकार में घोर अराजकता, अपराधों में वृद्धि, महिला उत्पीड़न और भ्रष्टाचार का नंगनाच हुआ है। बसपा सरकार में भी अपराध तथा संस्थागत भ्रष्टाचार का बोल बाला रहा है।

श्री मौर्य ने सवाल किया कि सपा सरकार के पांच वर्ष तक मायावती जी प्रदेश की ध्वस्त कानून व्यवस्था पर खामोश क्यों रही? दलित बस्तियों पर सपा समर्थित अराजक तत्वों के आतंक के बाद भी बहिन जी यूपी नहीं आई और न कुछ बोली। जबकि भाजपा अत्याचार और उत्पीड़न के विरूद्ध लगातार आवाज उठाती रही, भाजपा सपा-बसपा सरकार के हर जोर जुल्म के खिलाफ न्याय के लिए आवाज बुलन्द की है तथा सड़कों पर उतरी है भाजपा कार्यकर्ताओं नेपुलिस की बर्बर लाठियां खाई है और जेल गये है।

श्री मौर्य ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी सबकों साथ लेकर सबके विकास की राजनीति करती है और इसका प्रमाण भाजपा शासित राज्य है। बहिन जी बसपा के अस्तित्व की लड़ाई के अंतिम दौरे में है। जनता भाजपा को जिताने का मन बना चुकी है। बहिन जी को यह बात पता है इसी बौखालाहट में वे ऐसे बयान दे रही है। जनता बसपा के हर दांव को चित करने के लिए तैयार है।

Lucknow, Uttar Pradesh, India