अमेरिका में तीन मुस्लिम छात्रों का क़त्ल, कई शहरों में आक्रोश फैला

अमेरिका में तीन मुस्लिम छात्रों का क़त्ल, कई शहरों में आक्रोश फैला

कैरोलिना: अमेरिका में एक बंदूकधारी हमलावर ने मंगलवार रात को तीन मुस्लिम छात्रों की गोली मारकर हत्या कर दी। उत्तरी कैरोलिना यूनिवर्सिटी के निकट चैपेल हिल कैंपस में इस हमले को अंजाम दिया गया। हमलावर 46 वर्षीय क्रेग स्टीफेन हिक्स ने गोलीबारी को अंजाम देने के बाद खुद को पुलिस के हवाले कर दिया। अल्पसंख्यक वर्ग के तीन युवाओं की हत्या के बाद अमेरिका के कई शहरों में आक्रोश फैल गया है। सोशल मीडिया पर इसकी जमकर आलोचना हो रही है। 

हालांकि पुलिस घटना की वजहों पर पूरी तरह चुप्पी साधे हुए हैं। लेकिन खुद को नास्तिक बताने वाले हिक्स के फेसबुक पेज पर इस्लाम धर्म के खिलाफ पोस्ट की गईं आपत्तिजनक बातें और कमेंट से उसके इरादों का साफ पता चलता है। मृतक छात्रों की पहचान 23 वर्षीय दीह सादी बराकात, 21 वर्षीया युसुर मोहम्मद और 19 वर्षीया रजान मोहम्मद अबु सालहा के रूप में हुई है। बराकात युसुर की पति था और सालहा युसुर की बहन थी। बराकात यूएनसी स्कूल ऑफ डेंटिस्ट्री में द्वितीय वर्ष का छात्र था और तुर्की मंक सीरियाई शरणार्थियों के इलाज के लिए चंदा इकट्ठा करने का काम करता था।

बराकात ने एक माह पहले ही युसुर से निकाह किया था और वह भी जल्दी ही डेंटिस्ट्री में अपनी पढ़ाई शुरू करने जा रही थी। जबकि सालहा नार्थ कैरोलिना स्टेट यूनिवर्सिटी की छात्रा थी। मीडिया रिपोर्टो के मुताबिक, तीनों के सिर पर गोली मारी गई। यूएनसी चैपल हिल में बहुत सारे यूनिवर्सिटी छात्रों का आवासीय ठिकाना है। गोलीबारी के बाद वहां मातम का माहौल था। चैपल हिल पुलिस ने हमलावर हिक्स पर हत्या का मामला दर्ज किया है।

हमले की जानकारी के बाद सोशल मीडिया यूजरों ने हमलावर और उसके इस कृत्य की जमकर निंदा की। ट्विटर पर हैशटैग चैपलहिलशूटिंग और मुस्लिमलाइव्समैटर पर हजारों लोगों ने अपनी प्रतिक्रिया दी। इनमें से कुछ ने पीड़ितों की तस्वीरें भी सोशल मीडिया पर जारी कीं। फेसबुक पर अवर थ्री विनर्स नाम से एक कम्यूनिटी कंपेन चलाया जा रहा है।