एग्जिट पोल: मोदी लहर गुम, केजरीवाल की धूम

एग्जिट पोल: मोदी लहर गुम, केजरीवाल की धूम

नई दिल्ली। दिल्ली में मतदान बाद के अधिकतर सर्वेक्षणों में आम आदमी पार्टी की सरकार बनने की संभावना जताई गई है। एबीपी-नील्सन के एग्जिट पोल में आप को 39, भारतीय जनता पार्टी को 28 और कांग्रेस को तीन सीटें मिलने का अनुमान व्यक्त किया गया है। इंडिया टुडे-सिसेरो के सर्वेक्षण में आप को 35 से 43 सीटें मिलने की सं भावना जताई गई है, जबकि भाजपा को 23-29 तथा कांग्रेस को तीन से पांच सीटें मिलने का अनुमान लगाया गया है। न्यूज नेशन के एग्जिट पोल में आप को 39 से 43 सीटें, भाजपा को 25 से 29 तथा कांग्रेस को एक से तीन सीटें दी गई हैं। इंडिया न्यूज ने अपने सर्वेक्षण में आप को सात सीटों की घटत बढ़त के साथ 53, भाजपा को 17 और कांग्रेस को अधिकतम दो सीटें मिलने का अनुमान जताया है। 

इंडिया टीवी-सी वोटर के सर्वेक्षण में आप को 31 से 39, भाजपा को 27 से 35 तथा कांग्रेस को दो से चार सीटें मिलने की संभावना जताई गई है। एक्सिस पोल ने आप को 53 भाजपा को 17 और कांग्रेस को अधिकतम दो सीटें दी हैं । इनमें से ज्यादातर एग्जिट पोल दोपहर तीन बजे तक का है जबकि मतदान का अंतिम समय छह बजे शाम तक था।

भाजपा की मुख्यमंत्री पद की उम्मीदवार किरण बेदी ने कहा कि एग्जिट पोल क्योंकि तीन बजे तक हैं और उसके बाद भी भारी संख्या में लोगों ने मतदान किया है इसलिए उन्हें उम्मीद है कि उनकी पार्टी को ही बहुमत मिलेगा।

वहीं एबीपी न्यूज के सर्वे के मुताबिक आम आदमी पार्टी के वोट शेयर में भी काफी बढ़ोतरी हुई है, जबकि दूसरी ओर भाजपा और कांग्रेस के वोट शेयर में गिरावट देखने क ो मिली है। साल 2013 में आम आदमी पार्टी को 29 फीसद वोट शेयर था, जो कि अब आठ फीसद बढ़कर 37 फीसद हो गया। वहीं पिछली बार भाजपा का वोट शेयर 33 था जो कि इस बार एक फीसद गिरकर 32 फीसद रह गया है। इनके अलावा कांग्रेस का वोट शेयर छह फीसद गिरकर 19 फीसद ही रह गया है।

गौरतलब है कि साल 2013 में दिल्ली में हुए विधानसभा चुनाव में भाजपा को 32, आप को 28, कांग्रेस को आठ और अन्य को दो सीटें मिली थी। जिसके बाद आम आद मी पार्टी ने कांग्रेस के समर्थन के साथ सरकार बनाई थी। यह सरकार मात्र 49 दिन ही चली थी, जिसके बाद मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने इस्तीफा दे दिया था।

India