सपा सरकार गांव, गरीबांे की तरक्की के लिए प्रतिबद्ध

सपा सरकार गांव, गरीबांे की तरक्की के लिए प्रतिबद्ध

मुख्यमंत्री ने जनपद गोण्डा में विकास परियोजनाओं का किया लोकार्पण व शिलान्यास

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि समाजवादी सरकार गांवों, गरीबांे, मजलूमों, असहायों और किसानों की तरक्की के लिए प्रतिबद्ध है। इसके लिए सरकार द्वारा तमाम विकासपरक, रोजगारपरक व जनकल्याणकारी योजनाएं संचालित की जा रही हैं। उन्होंने कहा कि किसानों की तरक्की के बगैर राष्ट्र प्रगति नहीं कर सकता है। इसलिए प्रदेश सरकार किसानों के विकास हेतु निरन्तर कार्य कर रही है। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि समाज में आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों को सहारा देने के लिए समाजवादी पेन्शन योजना का संचालन किया जा रहा है। इस योजना से प्रदेश के चालीस लाख गरीब परिवार लाभान्वित होंगे। इसके साथ-साथ प्रदेश में सड़क, पुल, तथा अन्य अवस्थापना सुविधाओं के निर्माण का कार्य तेजी से चल रहा है। स्वास्थ्य, शिक्षा तथा बिजली व्यवस्था के सु्दृढ़ीकरण पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। सुरक्षा व्यवस्था मजबूत बनायी जा रही है। मजदूरों एवं समाज के हर तबके के लोगों को बिना भेदभाव के तमाम योजनाओं माध्यम से लाभान्वित किया जा रहा है। 

श्री यादव ने ये विचार आज गोण्डा के विकासखण्ड कर्नलगंज के भंभुआ स्थित किसान इण्टर कालेज में बेसिक शिक्षा राज्यमंत्री श्री योगेश प्रताप सिंह के पिता पूर्व विधायक स्व0 उमेश्वर प्रताप सिंह की प्रतिमा का अनावरण करने के उपरान्त व्यक्त किये। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने विभिन्न परियोजनाओं का लोकार्पण भी किया जिनमें  2228.40 लाख रू0 की लागत से बनी 44.65 किमी लम्बाई की 18 सड़़कें, 1195.96 लाख रू0 की लागत के दो सेतु, 556.03 लाख रू0 की लागत से बने आयुक्त कार्यालय एवं न्यायालय सम्मिलित हैं। 

मुख्यमंत्री ने जिले के विकास के लिए 41 परियोजनाओं का शिलान्यास भी किया जिनमें 3193.14 लाख रू0 से 51.86 किलोमीटर लम्बी 22 सड़कें, 2257.33 लाख रू0 की लागत से बनने वाले 4 सेतु व पहुंच मार्ग, पेयजल योजना के तहत 46.20 रू0 लाख की लागत से 10 पेयजल परियोजनाएं, 10058.88 लाख रू0 की लागत से पांच संस्थानों एवं विद्युत उपकेन्द्रों का निर्माण, नरेन्द्रदेव कृषि एवं प्रौद्योगिकी महाविद्यालय की कर्नलगंज में स्थापना, राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण सस्ंथान परसपुर, महर्षि पतन्जलि सूचना प्रौद्योगिकी पाॅलीटेक्निक कर्नलगंज, राजकीय महाविद्यालय भवानीपुर कला तथा 132 केवी विद्युत उपकेन्द्र कर्नलगंज व सम्बन्धित पारेषण लाइन का निर्माण कार्य सहित अन्य कई परियोजनाएं सम्मिलित हैं। 

श्री यादव ने समाजवादी पेन्शन योजना के तहत 1500 लाभार्थियों को पेन्शन कार्ड, माध्यमिक शिक्षा परिषद उत्तर प्रदेश के शिक्षा सत्र परीक्षा वर्ष 2013-14 के उत्तीर्ण हाईस्कूल के 255 तथा इण्टरमीडिएट के 263 सहित कुल 518 मेधावी छात्रों  को लैपटाॅप वितरण, श्रम विभाग द्वारा चयनित 504 लाभार्थियों को 15.12 लाख रू0  (पन्द्रह लाख बारह हजार रूपए) की साइकिल वितरण, मातृत्व हित लाभ योजना के तहत 22 व शिशु हित लाभ योजना के 33 लाभार्थियों को  5.11 लाख रू0 (पांच लाख ग्यारह हजार रूपए) के चेक, बेसिक शिक्षा विभाग द्वारा 210 प्रशिक्षुओं को नियुक्ति पत्र तथा किसान बीमा दुर्घटना के तहत चयनित 76 लाभार्थियों को 3.80 करोड़ रू0 की धनराशि वितरित की।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने प्रसिद्ध जनवादी कवि स्व0 अदम गोण्डवी की धर्मपत्नी श्रीमती चन्द्र कंुवरि कमला देवी को पांच लाख रूपए का चेक भी प्रदान किया। इसके अलावा उन्हांेने जरवल-गोण्डा मार्ग को स्टेट बजट से 4-लेन किए जाने, एल्गिन-चरसड़ी बांध 07 किमी0 से 15 किमी0 तक पक्का किए जाने, करनैलगंज क्षेत्र में मिल्क चिलिंग प्लान्ट के निर्माण, पसका राजापुर को पर्यटन क्षेत्र घोषित किए जाने, परसपुर को नगर पंचायत का दर्जा दिए जाने, मंगुरा ढोंगवा विश्व बैंक सड़क से जगतापुर होकर कोंड़री तक 2.1 किलोमीटर लम्बे सम्पर्क मार्ग के निर्माण, भुलियापुर से मोहम्मदपुर कमियार तक 2.2 किलोमीटर सम्पर्क मार्ग बनाए जाने तथा बकसैला पिच रोड से खजुरी निधि तक 1.8 किलोमीटर सम्पर्क मार्ग बनाए जाने की भी घोषणा की।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार गन्ना किसानों की समस्याओं के निराकरण हेतु कार्य रही कर रही है। किसानों का गन्ना मूल्य भुगतान न करने वाली चीनी मिलों के खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाएगी। विगत वर्ष गन्ना किसानों का 700 करोड़ रूपये देकर गन्ने के मूल्य का भुगतान प्रदेश सरकार द्वारा किया गया है। उन्होंने कहा कि आगामी 8 फरवरी को प्रधानमंत्री के साथ होने वाली बैठक में गन्ना किसानों की समस्याओं से प्रधानमंत्री को अवगत कराया जाएगा और ठोस कार्यवाही के लिए भी प्रयास भी किये जाएंगे। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार आधुनिक शिक्षा हेतु, मेडिकल काॅलेज, इन्जीनियरिंग काॅलेज, पाॅलीटेक्निट व बेरोजगारों को रोजगार मुहैया कराने हेतु कौशल विकास योजना का संचालन कर रोजगार देने का काम कर रही है।

Lucknow, Uttar Pradesh, India