पाकिस्तान में सभी आतंकवादी नहीं: राजनाथ

पाकिस्तान में सभी आतंकवादी नहीं: राजनाथ

हरिद्वार (उत्तराखंड): केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने आज कहा कि पाकिस्तान में भी समय-समय पर आतंकवाद के खिलाफ आवाज उठती रही है, लेकिन इसे लेकर देश की सरकारों की मंशा कभी साफ नहीं रही।

गृहमंत्री ने यहां संवाददाताओं से कहा, 'मुझे नहीं लगता कि पाकिस्तान में सभी आतंकवादी हैं। उस देश में भी वक्त-वक्त पर आतंकवाद के खिलाफ आवाज़ उठती है। लेकिन इसे लेकर पाकिस्तान की सरकारों की मंशा कभी साफ नहीं रही।'

उन्होंने कूटनीतिक स्तर पर प्रयासों और पाकिस्तान को दिए जा रहे माकूल जवाबों के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ करते हुए कहा कि पिछले छह महीने में पड़ोसी देश को सीमा पर किए जा रहे हर हमले का समुचित जवाब मिला है।

राजनाथ सिंह ने कहा, 'पिछले छह महीने में पाकिस्तान द्वारा सीमा पर किए जा रहे हर हमले का भारत ने समुचित जवाब दिया है।' उन्होंने कहा, 'प्रधानमंत्री के कूटनीतिक प्रयासों का ही असर है कि अमेरिका ने पाकिस्तान को स्पष्ट चेतावनी दी है।' उन्होंने कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा भी नहीं चाहते हैं कि पाकिस्तान आतंकवादियों का आश्रय स्थल बने और यही वजह है कि पड़ोसी देश लगातार अमेरिकी दबाव में है।

एक सवाल के जवाब में गृहमंत्री ने कहा कि भारत अपने आतिथ्य के लिए मशहूर है और यहां पहुंचने पर ओबामा को यह महसूस भी होगा।

केंद्रीय गृहमंत्री ने आज बसंत पंचमी के अवसर पर हरिद्वार में मंसादेवी और दक्षिण काली के दर्शन किए। राजनाथ सिंह उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री रमेश पोखरियाल निशंक की बेटी के विवाह समारोह में शामिल होने देहरादून जा रहे थे। इसी दौरान वह रास्ते में हरिद्वार में रुके और मंसादेवी तथा दक्षिण काली के दर्शन किए। उन्होंने मंसादेवी में चार साल पहले बांधे गए मन्नत के धागे को खोलकर अपनी मन्नत पूरी होने का शुक्रिया अदा किया।

India