कोयला घोटाले में मनमोहन से हुई पूछताछ

कोयला घोटाले में मनमोहन से हुई पूछताछ

नई दिल्ली : कोयला घोटाला मामले में सीबीआई ने पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से पूछताछ की है। सूत्रों के मुताबिक सीबीआई ने दो दिन पहले मनमोहन सिंह से उनके घर जाकर पूछताछ की। सीबीआई ने पूर्व प्रधानमंत्री से तालाबीरा-2 कोयला ब्लॉक आवंटन के बारे में पूछताछ हुई है। तालाबीरा-2 कोल ब्लॉक आवंटन के समय मनमोहन सिंह कोयला मंत्री थे। आरोप है कि हिंडाल्को को तालाबीरा-2 कोयला ब्लॉक आवंटन में नियमों की अनदेखी की गई।

ज्ञात हो कि स्पेशल कोर्ट ने मामले की सुनवाई करते हुए कहा था कि तत्कालीन कोयला मंत्री से भी पूछताछ होनी चाहिए। इसके बाद सीबीआई ने यह पूछताछ की है। कोल ब्लॉक्स आवंटन के समय मनमोहन सिंह के पास कोयला मंत्रालय था। सीबीआई को 27 जनवरी स्पेशल कोर्ट में स्थिति रिपोर्ट दाखिल करनी है।  

सूत्रों ने बताया कि सीबीआई के अधिकारियों की एक टीम ने दो दिन पहले पूर्व प्रधानमंत्री से उनके निवास पर ‘पूछताछ’ की। सीबीआई को इस मामले में स्थिति रिपोर्ट 27 जनवरी तक सीबीआई की विशेष अदालत में दाखिल करनी है।

सीबीआई प्रवक्ता कंचन प्रसाद ने इस बारे में संपर्क करने पर न तो घटना की पुष्टि की, न ही इससे इनकार किया। वहीं पूर्व प्रधानमंत्री के एक सहयोगी ने इससे इनकार किया। सूत्रों के अनुसार सिंह से उद्योगपति कुमार मंगलम बिड़ला के दो पत्रों के बाद कोयला मंत्रालय तथा प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) के घटनाक्रम के बारे में पूछताछ की गई। बिड़ला ने सात मई 2005 व 17 जून 2005 को तत्कालीन प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर तालाबिरा-दो कोयला खान हिंडाल्को को आवंटित करने का आग्रह किया था।

उल्लेखनीय है कि सीबीआई के विशेष जज भरत पराशर ने इस मामले में सीबीआई की अंतिम (क्लोजर) रिपोर्ट स्वीकार करने से इनकार कर दिया था। उन्होंने कहा था कि यह ‘उचित’ होगा कि इस मामले के विभिन्न पहलुओं पर कोयला मंत्री की जिम्मेदारी संभालने वाले (सिंह) से ‘पहले पूछताछ’ की जाए। 

India