भुवी-रहाणे ने मैच बचाया सिडनी टेस्ट

भुवी-रहाणे ने मैच बचाया सिडनी टेस्ट

ऑस्ट्रेलिया ने 2-0 से जीती बॉर्डर-गावस्कर श्रंखला

सिडनी। बॉर्डर-गावस्कर श्रंखला का सिडनी में खेला जा रहे चौथा टेस्ट भारत ने ड्रा करा लिया है। इसी के साथ चार मैचों की यह श्रंखला ऑस्ट्रेलिया ने 2-0 से जीत ली। 349 रनों का पीछा करते हुए भारतीय टीम ने सात विकेट पर 252 रन बनाए। अजिंक्या रहाणे और भुवनेश्वर कुमार ने अंत में लगभग 12 ओवर संयम से खेलकर भारत को हार से बचाया। ऑस्ट्रेलिया एक समस जीत के करीब थी और उसे 20 ओवर में जीत के लिए केवल चार विकेट चाहिए थे। 

ऑस्ट्रेलिया ने चौथे दिन के स्कोर छह विकेट पर 251 रन पर अपनी दूसरी पारी घोषित कर दी और भारत के सामने 349 रनों का लक्ष्य रखा। इसका पीछा करते हुए भारत ने सधी हुई शुरूआत की और विजय और लोकेश राहुल ने पहले विकेट के लिए 48 रन जोड़े। राहुल 16 रन बनाने के बाद नाथन लियोन की गेंद पर लपके गए। इसके बाद मुरली विजय और रोहित शर्मा ने दूसरे विकेट के लिए 56 रन जोड़कर भारत को 100 के पार पहुंचाया। लेकिन 39 रन बनाने के बाद शेन वाटसन की गेंद पर रोहित स्लिप में लपके गए। स्टीवन स्मिथ ने गोता लगाकर एक हाथ से शानदार कैच लपका। 

इसके बाद शानदार फॉर्म में चल रहे विराट कोहली और विजय ने भारतीय पारी को आगे बढ़ाया। दोनों ने तेजी से रन बटोर कर लक्ष्य के करीब पहुंचने का प्रयास किया। लेकिन विजय 80 के स्कोर पर विकेट के पीछे लपके गए। उनके थोड़ी देर बाद ही विराट कोहली भी 46 रन बनाकर मिचेल स्टार्क की गेंद पर स्लिप में लपके गए। इससे दबाव भारत पर आ गया। 

कोहली के आउट होने के बाद सुरेश रैना और रिदि्धमान साहा ने निराश किया। दोनों खिलाड़ी बिना खाता खोले आउट हो गए। रैना तो पहली पारी में भी खाता नहीं खोल पाए थे। इसके बाद आर अश्विन ने थोड़ा संघर्ष किया लेकिन वे भी 22 गेंद खेलने के बाद आउट हो गए। लेकिन फिर भुवनेश्वर कुमार और अजिंक्या रहाणे ने जबरदस्त धैर्य दिखाया और भारत को हार की कगार से उबार लिया। रहाणे 38 और भुवी 20 रन बनाकर नाबाद लौटे। ऑस्ट्रेलिया की ओर से जॉस हेजलवुड, मिचेल स्टार्क और नाथन लियोन ने दो-दो विकेट झटके।