पेरिस आतंकी हमलावरों की पहचान हुई, एक ने सरेंडर किया

पेरिस आतंकी हमलावरों की पहचान हुई, एक ने सरेंडर किया

पेरिस। फ्रांस की व्यंग्य पत्रिका चार्ली हेब्डो के पेरिस स्थित दफ्तर पर हमला कर 12 लोगों की हत्या करने वाले तीनों आतंकियों की पहचान कर ली गई है। आतंकियों में से एक ने पुलिस के सामने आत्मसमर्पण भी कर दिया है। आत्मसमर्पण करने वाले आतंकी मुराद की उम्र महज 18 वर्ष है, जबकि शेष दोनों आतंकियों की पहचान क्वाची ब्रदर्स के रूप में की गई है। 

मुराद ने अपने आपको बेकसूर भी बताया। उसने कहा कि सोशल मीडिया साइट्स पर अपना नाम देखने के बाद उसने आत्मसमर्पण करने का निश्चय किया। तीनों आरोपी पत्रिका के दफ्तर में एके-47 लेकर जबरन घुस आए और वहां मौजूद लोगों की सिर में गोली मारकर हत्या कर दी।

तीनों आतंकी फ्रांस के नागरिक हैं। क्वाची ब्रदर्स की पहचान सैयद क्वाची तथा शेरिफ क्वाची के रूप में की गई है जबकि आत्मसमर्पण करने वाले आतंकी की नाम मुराद है। शेरिफ को वर्ष 2005 में आतंकी गतिविधियों के लिए गिरफ्तार कर 18 महीने की सजा सुनाई गई थी। जेल से रिहा होने के बाद से भी पुलिस उस पर लगातार नजर रखे हुए थी।

पत्रिका के दफ्तर पर हुए हमले में मारे गए 12 लोगों की याद में पेरिस में एक लाख से अधिक लोगों ने हाथ में जलती मोमबत्ती लेकर श्रद्धांजलि दी। इन लोगों ने "आई एम चार्ली" के नारे में भी लगाए