भारतीय दृष्टिबाधित जूडो टीम साउथ अफ्रीका के लिये रवाना

भारतीय दृष्टिबाधित जूडो टीम साउथ अफ्रीका के लिये रवाना

लखनऊ: भारतीय दृष्टिबाधित जूडो टीम पहली बार काॅमेनवेल्थ जूडो प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए कल रवाना हुई। टीम में पाँच खिलाड़ी- उत्तर प्रदेश के कुलदीप, मुम्बई बलिया, उत्तर प्रदेश के जयदीप कुमार हृदया सिंह एवं तमिलनाडू से रवि विजयाशान्ती, मनी सुशीला, जानकी रमन मनोहरन खिलाड़ी के रूप में भाग लेगें। कोच के रूप में उमाशंकर, जूडो कोच, तमिलनाडू ( Escort Cum Manager के रूप में  सुधीर हलवासिया, महासचिव, यू.पी. ब्लाइंड एण्ड पैरा जूडो एसोसिएशन; टीम लीडर के रूप में मुकेश मेश्राम, अध्यक्ष, यू.पी. ब्लाइंड एण्ड पैरा जूडो एसोसिएशन एवं रेफरी के रूप में मुनव्वर अंज़ार टीम के साथ रवाना हुए हैं ।

यह प्रतियोगिता 23 से 28 अप्रैल 2016 तक Nelson Mandela Metropole University, Port Elizabeth, South Africa में आयोजित हो रही है।

महासचिव, इण्डियन ब्लाइंड एण्ड पैरा जूडो एसोसिएशन मुनव्वर अंजार ने बताया कि यह पहला ऐसा मौका है, जब  भारतीय दृष्टिबाधित जूडो टीम काॅमेनवेल्थ जूडो प्रतियोगिता में हिस्सा लेगी। इससे पूर्व ये खिलाड़ी इन्चैन पैरा एशियाई खेल 2014 में हिस्सा लेकर कांस्य पदक जीत चुके है।