इट्जकैश ने 50,000 करोड के बिल भुगतान का आंकड़ा पार किया

इट्जकैश ने 50,000 करोड के बिल भुगतान का आंकड़ा पार किया

डिजीटल भुगतान के क्षेत्र में बड़ा नाम इट्जकैश ने आज की तारीख में सभी बिलों का अप्रत्याशित 50,000 करोड़ रुपए का सकल संचयी भुगतान का आंकड़ा पार कर लिया है। कम्पनी का दावा है कि देशभर में उसके 40 मिलियन ग्राहकों का सुदृढ़ आधार है जिसने चालू वित्तीय वर्ष 2016-17 में 15,000 करोड़ रुपए के बिलों का भुगतान कम्पनी के माध्यम से किया।

इट्जकैश ने देश के उपभोक्ता बिलों के क्षेत्र में उच्चम मात्रा में 6,000 करोड़ का लेनदेन वर्तमान वर्ष 2015-16 के दौरान किया। कम्पनी वित्तीय सेवाओं के लिए सबसे बड़ा नेटवर्क है जिसमें 75000 से अधिक फ्रेन्चाइज आउटलेट्स पूरे देश में स्थापित हैं और आशा है कि वह चालू वित्तीय वर्ष में 270 करोड़ रुपए का राजस्व अर्जित कर लेगी।

पेमेंट काउन्सिल आॅफ इण्डिया अध्यक्ष एवं इट्जकैश के प्रबन्ध निदेशक  नवीन सूर्या ने इस अवसर पर कहा ‘‘ भारत अनंतोगत्वा सुदृढ़ डिजीटल स्तर पर पहंुच रहा है और दिन प्रतिदिन इसका विका होता ही जा रहा है। ऐसे में जबकि ‘‘डिजीटल इण्डिया‘‘ अभियान विशद दृष्टिकोण उपलब्ध करवा रहा है, बीबीपीएस और यूपीआई इनिशिएटिव लैस कैश इण्डिया के पूरे एजेंडा को नई गति प्रदान करेंगे।‘‘

उन्होंने कहा कि बीबीपीए काफी महत्वाकांक्षी प्लेटफाॅर्म और यह मौजूदा नेटवक्र्स को इंटरकनेक्टिंग एक गेम चेंजर की भूमिका अदा करने में सक्षम है, और सभी प्रकार के बिलों का वन स्टाॅप शाॅप भुगतान कर आॅनलाइन भुगतान संरचना को और ठोस बना रहा है। इस प्लेटफाॅर्म के प्राथमिक चरण में यूटीलिटी बिलों सेगमेंट के भुगतान पर ध्यान केन्द्रित रखा जाएगा, हमे आशा है कि हम अपने लक्षित बाजार में और गहराई तक अपनी पैठ बना सकेगे।