इत्र उद्योग को विश्वस्तरीय पहचान दिलाएगी सपा सरकार: अखिलेश

इत्र उद्योग को विश्वस्तरीय पहचान दिलाएगी सपा सरकार: अखिलेश

मुख्यमंत्री ने कन्नौज में इण्टरनेशनल परफ्यूम म्यूजियम, परफ्यूम पार्क और काऊ मिल्क प्लान्ट का शिलान्यास किया

कन्नौज: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आज जनपद कन्नौज में इत्र उद्योग को अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर स्थापित करने के लिए इण्टरनेशनल परफ्यूम म्यूजियम एवं परफ्यूम पार्क के साथ ही 140 करोड़ रुपए की लागत से स्थापित होने वाले 01 लाख लीटर क्षमता के काऊ मिल्क प्लान्ट का शिलान्यास किया। उन्होंने कहा कि इससे इत्र व्यवसायियों तथा दुग्ध उत्पादकों की आर्थिक स्थिति मजबूत होगी और उनके उत्पादों की वास्तविक कीमत मिल सकेगी। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार इत्र उद्योग को विश्वस्तरीय पहचान देने के लिए कटिबद्ध है।

मुख्यमंत्री ने आज ठठिया, तिरवा कन्नौज में आयोजित एक कार्यक्रम में जनपद कन्नौज के सर्वांगीण विकास के लिए 1164 करोड़ 56 लाख 59 हजार रुपए की लागत की 256 विकास परियोजनाओं का शिलान्यास एवं लोकार्पण किया। उन्होंने विभिन्न योजनाओं के तहत 3437 लाभार्थियों को उपकरण तथा सहायता राशि का वितरण भी किया। इसमें 568 मेधावी छात्र-छात्राएं निःशुल्क लैपटाॅप योजना के, 848 मेधावी छात्राएं संशोधित कन्या विद्याधन योजना की, 71 लाभार्थी ई-रिक्शा के, 300 लोहिया आवास के तथा समाजवादी पेंशन योजना के 500 लाभार्थी शामिल थे।

श्री यादव ने निर्माण कार्यों में लगे 500 श्रमिकों को साइकिल सहायता, 10 लोगों को कृषक दृर्घटना बीमा योजना का लाभ, 25 को कौशल विकास मिशन, 15 को डी0बी0टी0 कृषक, 15 को भूमि सेना योजना, 25 को मिनी कामधेनु योजना/माइक्रो कामधेनु योजना का लाभ, 460 लाभार्थियों को जनेश्वर मिश्र ग्राम-सोलर पावर पैक तथा 100 लोगों को राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना के तहत लाभान्वित किया।

इस अवसर पर मुख्य्मंत्री कहा कि कन्नौजवासियों के लिए आज का दिन ऐतिहासिक है। इण्टरनेशनल परफ्यूम म्यूजियम एवं परफ्यूम पार्क की स्थापना ठठिया में लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे से एक किमी0 की दूरी पर की जाएगी, जो इत्र उद्यमियों एवं कन्नौज की जनता के विकास में मील का पत्थर साबित होगी। इस परियोजना का मुख्य उद्देश्य स्थानीय इत्र उद्यमियों के लिए अपने उत्पादों को विश्व बाजार में पहचान देने के लिए एकीकृत व्यवस्था किया जाना है। इसमें आॅडिटोरियम, म्यूजियम, मैन्यूफैक्चरिंग, सवोनियर शाप स्थापित होगी। इसके स्थापित होने से इत्र व्यवसाय को बढ़ावा मिलेगा तथा इस व्यवसाय को एक नई पहचान मिलेगी।

श्री यादव ने कहा कि विकास खण्ड उमर्दा के ग्राम बढ़नपुर वीरहार में 8.07 एकड़ की भूमि पर 140 करोड़ रुपए की धनराशि से 01 लाख लीटर क्षमता की गौ दुग्धशाला का शिलान्यास किया गया है। इसके स्थापित होने से कन्नौज तथा उनके आस-पास जनपदों के किसानों को लाभ मिलेगा। उन्होंने कहा कि इससे ग्रामीण क्षेत्र की अर्थव्यवस्था में मौलिक बदलाव आयेगा। 

श्री यादव ने कहा कि जनपद कन्नौज डाॅ0 राम मनोहर लोहिया तथा नेताजी का संसदीय क्षेत्र रहा है। इस संसदीय क्षेत्र ने कई बार इतिहास रचा है। इस क्षेत्र के लोग सुख व दुःख में समाजवादी विचारधारा से जुड़े रहे हैं। मेरा सौभाग्य रहा है कि यहां की जनता ने मुझे भी पहली बार यहां से सांसद के रूप में चुनकर लोकसभा पहुंचाने का काम किया था। उन्होंने कहा कि वे हमेशा इस क्षेत्र के लोगों के आभारी रहेंगे। उन्होंने कहा कि वर्तमान में इस क्षेत्र की सांसद श्रीमती डिम्पल यादव को भी जनता का अपार स्नेह और सहयोग मिल रहा है।

मुख्यमंत्री ने सरकार की चार वर्ष की उपलब्धियां गिनाते हुए कहा कि उनकी सरकार हमेशा गरीबों के साथ रही है। शहर तथा गांव के बीच संतुलन बनाकर विकास कार्य किया है। जहां एक ओर आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे, समाजवादी पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे जैसी सड़कें बनाई जा रही हैं। वहीं दूसरी ओर शहरों में मेट्रो रेल भी चलाये जाने पर तेजी से काम किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि विकास के मामले में समाजवादी सरकार का कोई मुकाबला नहीं है।

कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए नगर विकास मंत्री मोहम्मद आज़म खान ने कहा कि राज्य सरकार ने अनेक विकास कार्य किए हैं। मुख्यमंत्री द्वारा आज इण्टरनेशनल परफ्यूम म्यूजियम एंव परफ्यूम पार्क जैसी ऐतिहासिक परियोजना का शिलान्यास किया है, इससे कन्नौज के इत्र उद्यमियों को विश्वस्तर पर एक पहचान मिलेगी। समाजवादी सरकार ने कमजोर, गरीब, किसानों, अल्पसंख्यकों, नौजवानों सहित सभी वर्गों के हितों को दृष्टिगत रखते हुए महत्वपूर्ण एवं लाभकारी योजनाएं संचालित की है। इससे काफी लोगों को सहूलियत मिली है। उन्होंने कहा कि कन्नौज खुशबू का शहर है। उन्होंने कौमी एकता को कायम रखे जाने पर बल दिया। मानव चालित रिक्शे के अत्यधिक श्रमसाध्य होने के कारण चालकों के शरीर पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है। इसलिए मुख्यमंत्री ने आज 71 ई-रिक्शा वितरित किए हैं।

दुग्ध विकास मंत्री  राममूर्ति वर्मा ने अपने सम्बोधन में कहा कि मुख्यमंत्री के निर्देशन में दुग्ध क्षेत्र को बढ़ावा देने के लिए उल्लेखनीय कार्य किया गया है। राज्य सरकार ने जनपद में डेयरी की स्थापना की है, जिसके अन्तर्गत तिरवा के निकट गसीमपुर में 30 हजार लीटर प्रतिदिन क्षमता वाले दुग्ध अवशीतन केन्द्र का आज लोकार्पण किया गया है। 

इस अवसर पर माध्यमिक शिक्षा राज्य मंत्री  विजय बहादुर पाल, कृषि उत्पादन आयुक्त प्रवीर कुमार, प्रमुख सचिव औद्योगिक विकास महेश कुमार गुप्ता, प्रमुख सचिव सूचना नवनीत सहगल, मण्डलायुक्त मोहम्मद इफ्तिखारूद्दीन आदि भी उपस्थिति थे। 

Uttar Pradesh, India