महाराष्ट्र से IPL मैच शिफ्टिंग मामले में धोनी भी कूदे

महाराष्ट्र से IPL मैच शिफ्टिंग मामले में धोनी भी कूदे

नई दिल्ली: महाराष्ट्र में सूखे की दिक्कत से लोग तो परेशान हैं ही लेकिन उसको लेकर आईपीएल पर उठ रहे सवालों से सूखे पर अच्छी खासी किचकिच शुरू हो गई है। इस पूरे मामले में अब टीम इंडिया के कप्तान और आईपीएल में नई टीम राइज़िंग पुणे सुपरजाइंट्स की कप्तानी कर रहे महेंद्र सिंह धोनी ने कहा है कि कुछ मैचों को महाराष्ट्र के बाहर शिफ़्ट करने से कोई फ़र्क नहीं पड़ेगा।

आईपीएल में महाराष्ट्र से दो टीमें हिस्सा ले रही हैं जिसमें मुंबई इंडियन्स और धोनी की टीम राइज़िंग पुणे सुपरजायंट्स शामिल हैं। जिन जगहों पर मैच कराने को लेकर सवाल हैं, वे पुणे, नागपुर और मुंबई के मैदान हैं। इसको लेकर मुंबई हाई कोर्ट ने पहले ही अपनी नाराज़गी ज़ाहिर कर दी है लेकिन पहले मैच की अनुमति देने के बाद अगली सुनवाई अब 12 अप्रैल को होनी है जिसमें बीसीसीआई और महाराष्ट्र सरकार अपना अपना पक्ष रखेंगे।

मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस ने पहले ही बयान दे दिया है कि पीने के पानी को किसी भी तरह से क्रिकेट के मदैान या पिच को सींचने के लिए नहीं दिया जाएगा। अपने बयान में उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र पानी की भारी किल्लत से गुज़र रहा है, अगर अदालत चाहे तो आईपीएल के मैचों को महाराष्ट्र से बाहर कहीं और करवा सकती है।

बीसीसीआई की तरफ़ से अनुराग ठाकुर का बयान आया था कि महाराष्ट्र को चंद मैचों के लिए 100 करोड़ रुपए मिलते हैं जिसको वे पानी के लिए इस्तेमाल कर सकती है और मैचों के लिए पीने के पानी की ज़रूरत नहीं, वे सीवेज ट्रीटेड वॉटर का इस्तेमाल करेंगे। उन्होंने कहा कि फ़्रेंचाइज़ी से इस बाबत बात की जी रही है कि वे इसमें क्या मदद कर सकती हैं कि सूखा पीड़ितों की मदद की जा सके। 12 अप्रैल को हाई कोर्ट में यह बात रखी जाएगी।