बिहार में दवा के रूप में मिलेगी दारू

बिहार में दवा के रूप में मिलेगी दारू

पटना। बिहार में शराबबंदी के बाद इसके आदी हो चुके लोग बीमार होने लगे हैं लेकिन अब सरकार ने ही इन्हें राहत दी है। स्वास्थ्य विभाग ने अधिसूचना जारी कर कहा है कि बीमार लोगों को दवा के रूप में दारू के इस्तेमाल की इजाजत दी जा सकती है। हालांकि, दवा के रूप में भी इसका इस्तेमाल हफ्ते में सिर्फ एक बोतल से ही किया जा सकेगा।

अधिसूचना के अनुसार ऐसे लोग जिन्हें शराब की लत है और अब अचानक शराबबंदी के बाद खुद को संभाल नहीं पा रहे हैं। ऐसे लोगों को डॉक्टर की सलाह पर सीमित मात्रा में शराब उपलब्ध कराई जाएगी। स्वास्थ्य विभाग ने हर जिले के डीएम को निर्देश दिया है कि वह शराब न मिलने से बीमार हुए लोगों को दो हफ्ते में शराब की दो बोतल उपलब्ध कराए।

बता दें कि राज्य में शराब की बिक्री बंद होने के बाद से ही ऐसे मामले सामने आ रहे हैं, जिसमें शराब न मिलने से लोगों की हालत बिगड़ने की खबरें सामने आ रही हैं। कुछ लोग पागलों जैसी हरकतें भी कर रहे हैं। नशा मुक्ति केंद्र में इलाज करा रहे मरीजों की हालत शराब नहीं मिलने से लगातार बिगड़ती जा रही है। डॉक्टरों का भी मानना है कि पीने की लत अचानक नहीं छूट जाएगी। इसे वक्त लगेगा।

India